अभिनंदन की वापसी जेनेवा संधि के अनुरूप फैसला: एयर वाइस मार्शल


जब पत्रकार ने पूछा कि इसे वे इमरान खान का गुडविल जेस्‍चर यानी सदिच्‍छापूर्ण मुद्रा मानते हैं या नहीं, तो उन्‍होंने साफ कहा कि हम इसे केवल ऐसी ही मुद्रा के रूप में देख रहे हैं जो जेनेवा संधि के अनुकूल है


मीडिया विजिल मीडिया विजिल
वीडियो Published On :


पाकिस्‍तान की संसद में प्रधानमंत्री इमरान खान की ओर से विंग कमांडर अभिनंदन को कल वापस भेजे जाने के संबंध में की गई घोषणा के बाद से ही माहौल दो पाले में बंट गया है। एक बड़ा तबका जिसमें समूचा भारतीय मीडिया शामिल है, वह इसे प्रधानमंत्री मोदी की कामयाबी और पाकिस्‍तान पर पड़े दबाव के रूप में प्रस्‍तुत कर रहा है। दूसरी ओर एक छोटा तबका है जिसे इसमें इमरान खान की अमनपसंद भूमिका दिखायी दे रही है।

इस बहस के बीच भारतीय सेना के तीनों अंगों के प्रमुखों ने देर शाम विजय चौक पर आयोजित प्रेस ब्रीफिंग में कई अहम सवालों के जवाब दिए, जिनमें एक पत्रकार के सवाल की प्रतिक्रिया में यह जवाब भी शामिल था कि अभिनंदन की रिहाई और वापसी को भारत कैसे देख रहा है।

एयर वाइस मार्शल ने इसका जवाब देते हुए केवल इतना कहा कि वे अभिनंदन की वापसी से खुश हैं। उन्‍हें उम्‍मीद है कि उसके वापस आने पर वे जल्‍द ही उससे मिलेंगे। जब पत्रकार ने पूछा कि इसे वे इमरान खान का गुडविल जेस्‍चर यानी सदिच्‍छापूर्ण मुद्रा मानते हैं या नहीं, तो उन्‍होंने साफ कहा कि हम इसे केवल ऐसी ही मुद्रा के रूप में देख रहे हैं जो जेनेवा संधि के अनुकूल है।

नीचे देखिए पूरी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस। जेनेवा संधि के सजुड़ा जवाब 4.59 से 4.55 मिनट के बीच सुना जा सकता है।

#WATCH Live from Delhi

#WATCH Live from Delhi: Joint press breifing by Army, Navy and Air force

Posted by Asian News International (ANI) on Thursday, February 28, 2019