CAA: उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में ग्रामीणों का प्रदर्शन, कानून वापस लेने की मांग

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
उत्‍तराखण्‍ड Published On :


आज पिथौरागढ़ जिले के झुलाघाट के ग्रामीण बस्तियों के लोगों ने भारत सरकार द्वारा लाई गई सीएए और एनआरसी का विरोध किया! ग्रामीणों ने कहा कि यह कानून जनता विरोधी है और इसे तुरंत वापस लिया जाना चाहिए. आरटीआई कार्यकर्ता किशोर कुमार के संयोजन में ग्रामीणों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

किशोर कुमार ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे द्वारा हमारे वोटो से चुनी गई सरकार हम से ही पहचान मांग रही है।

हम से ही पूछ रही है कि हम इस देश के नागरिक हैं कि नहीं. उन ग्रामीणों का क्या होगा जिनके पास पर्याप्त कागज नहीं है? लोगों को जबरन जरूरी मुद्दों से भटकाया जा रहा है.

ग्रामीण मुकेश कुमार ने कहा है कि गांव में आज दो वक्त की रोटी जुटाना मुश्किल हो रहा है. फसलें सूअर बंदरों ने उजाड़ दी है सरकार इसका हल निकालने के बजाय हम से कागज मांग रही हैं.

बेरोजगार युवा दीपेंद्र राम ने कहा बेरोजगारी जैसी विकराल समस्या चारों और मौजूद है सरकार उसे सुलझाना छोड़ कर हमारी नागरिकता पूछ रही है. ग्रामीणों ने बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की तस्वीर और हस्तलिखित नारों के साथ प्रदर्शन किया.

प्रदर्शन में हीरा देवी माया देवी कविता रेशमा लीला देवी सुनील कुमार हरीश नाम संजय कुमार अनिल कुमार विनोद कुमार पप्पू प्रकाश राम प्रेम राम उमेश पूर्व प्रधान सुरेंद्र आर्य आदि मौजूद रहे.


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।