कांग्रेस यूपी में सिर्फ़ चुनाव जीतने के लिए नहीं, लोकतंत्र बचाने के लिए लड़ रही है- प्रियंका गाँधी


कांग्रेस यूपी में दो लाख कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने का अभियान चला रही है। पार्टी की यूपी प्रभारी और महासचिव प्रशिक्षण शिविरों को महासचिव प्रियंका गांधी इन प्रशिक्षण शिविरों को ऑनलाइन संबोधित कर रही हैं। इन शिविरों में आरएसएस की ओर से देश के सामने पैदा किये गये संकट और कांग्रेस की ऐतिहासिक ज़िम्मेदारी के बारे में प्रशिक्षित किया जा रहा है।


मीडिया विजिल मीडिया विजिल
उत्तर प्रदेश Published On :


लखनऊ, उत्तर प्रदेश। उत्तर प्रदेश कांग्रेस का अपने पदाधिकारियों को प्रशिक्षित करने का ‘प्रशिक्षण से पराक्रम’ महाभियान आज लगातार नौवें दिन जारी रहा। प्रशिक्षण शिविरों को महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने संबोधित किया।

प्रशिक्षण शिविर को संबोधित करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि कांग्रेस आज उत्तर प्रदेश में सिर्फ चुनाव जीतने के लिए नहीं लड़ रही है बल्कि लोकतंत्र बचाने की लड़ाई भी लड़ रही है। आज हमारा कार्यकर्ता लोकतंत्र बचाने की हर लड़ाई में आगे बढ़कर लड़ रहा है। उन्होंने जय भारत महाभियान में लगे नेताओं-कार्यकर्ताओं की सराहना की। उन्होंने कहा कि ग्राम सभा इकाई हमारे संगठन की बुनियाद है। हमें मजबूती के साथ हर गाँव कांग्रेस महाभियान को पूरा करना है।

इस प्रशिक्षण शिविर मे सात टीमें लगातार प्रशिक्षण के काम मे लगी हुई हैं। प्रशिक्षण ले रहे पदाधिकारियों को कांग्रेस के इतिहास, संघ और भाजपा के देश विरोधी अतीत, बूथ मैनेजमेंट और सोशल मीडिया के बेहतर इस्तेमाल पर गहन प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

इस प्रशिक्षण शिविर मे सपा, बसपा, भाजपा द्वारा उत्तर प्रदेश को बर्बाद किये जाने पर केंद्रित सत्र ‘किसने बनाया उल्टा प्रदेश’ चलाया जा रहा है।

अब तक यह प्रशिक्षण अभियान यूपी के 63 जिलों में संपन्न हो चुका है। इस महाभियान में कुल 700 प्रशिक्षण कैंप आयोजित किए जाएंगे जिसमें दो लाख पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया जायेगा। इस प्रशिक्षण शिविर के अगले चरण में कार्यकर्ताओं और नेताओं का विधानसभा वार प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

शुक्रवार को नौवें दिन प्रयागराज गंगापार, भदोही, श्रावस्ती, गोरखपुर, रामपुर, कन्नौज और संभल जिले में यह प्रशिक्षण शिविर संपन्न हुआ जिसमें पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया गया।

 

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।