‘अब्बाजान’ के बाद ‘चाचाजान’: राकेश टिकैत ने ओवैसी के बहाने BJP को घेरा!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
प्रदेश Published On :


उत्तर प्रदेश में 2022 विधानसभा चुनाव से पहले बयानों का दौर चल पड़ा है। अब तक ‘अब्बाजान’ को लेकर सियासत गरमाई थी पर अब इस बयानबाजी में ‘चाचाजान’की एंट्री ने हड़कंप मचा दिया है। भारतीय किसान संघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत आज यानी बुधवार को मेरठ के कंकरखेड़ा निवासी शहीद मेजर मयंक विश्नोई के घर उनके परिजनों से मिलने पहुंचे थे। वहां से वापसी के वक्त गोल्डन सर्किल स्थित कुटिया पर पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाया कि भाजपा सिर्फ तोड़फोड़ की राजनीति करती है। साथ ही उन्होंने AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी को बीजेपी के चचाजान बना दिया और कहा वह यूपी में बीजेपी के मेहमान बनकर आए हैं।

राकेश टिकैत ने कहा कि बीजेपी वोट के लिए देश को बांटने का काम करती है, अब वह किसान आंदोलन को खत्म करने के लिए उसे भी जाति में बांटने का काम कर रही है, लेकिन बीजेपी के इस खेल को किसान अच्छे से जानता है। अब किसान वही करेंगे जो संयुक्त किसान मोर्चा का फैसला होगा।

सरकार को शर्म आनी चाहिए लोकतंत्र में बातचीत के दरवाज़े बंद हैं..

सरकार द्वारा आंदोलन के इतने महीने बाद भी किसानों से बात नहीं करने के सवाल पर टिकैत ने कहा कि इतिहास में कभी किसी सरकार ने ऐसा नहीं किया हैं। सरकार को शर्म आनी चाहिए कि वे लोकतंत्र में बातचीत के दरवाजे बंद कर रहे हैं। टिकैत ने केंद्र सरकार पर भी जम कर हमला किया उन्होंने कहा बेरोजगारी चरम पर है, किसान बर्बाद है, लेकिन सरकार कोई उपाय नहीं कर रही है। वह सिर्फ अपने पूंजीपति मित्रों को सरकारी संपत्तियां बेचने में लगी हुई है।

बीजेपी न बताए किसानों को कौन से नारे लगाने चाहिए..

राकेश टिकैत ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि हर हर महादेव और अल्लाहु अकबर किसानों के नारे हैं। बीजेपी को हमे यह बताने की जरूरत नही है कि किसानों को कौन से नारे लगाने चाहिए। राकेश टिकैत ने कहा कि हम राम के वंशज हैं, हम रघुवंशी हैं। किसान जब बैल लेकर घर से बाहर निकलता है तो कहता है कि ले राम का नाम। उन्होंने कहा बीजेपी सिर्फ तोड़फोड़ की राजनीति करती है। वे लोग हमें बता रहे जय श्री राम का नारा लगाओ।

असदुद्दीन ओवैसी को भारतीय जनता पार्टी का ‘चाचाजान’: टिकैत

बता दें कि राकेश टिकैत किसान आंदोलन के तहत उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में जाकर किसानों को संबोधित कर रहे हैं। इसी कड़ी में वो हापुड़ पहुंचे थे। जहां उन्होंने एक रैली के दौरान AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को भारतीय जनता पार्टी का ‘चाचाजान’ बताया। राकेश टिकैत ने आरोप लगाया कि अगर असदुद्दीन ओवैसी बीजेपी को गाली देते हैं तो उनके खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं होता है। क्योंकि ये दोनों एक ही टीम हैं। राकेश टिकैत ने असदुद्दीन ओवैसी को भाजपा की बी टीम बताते हुए तंज कसा, उन्होंने कहा कि गांव में मुझे लोगों ने बताया कि ओवैसी बीजेपी की बी टीम है। इसलिए ओवैसी बीजेपी के चाचाजान हैं। बीजेपी के बी ग्रुप के चाचा यूपी में आंध्र प्रदेश से आए हैं। अब ताऊ जी आयेंगे। ‘ए’ टीम बीजेपी है और ‘बी’ टीम एआईएमएएम पार्टी है।

किसान और युवा अब सरकार को वोट की चोट देने के लिए तैयार…

राकेश टिकैत ने स्पष्ट किया कि उनका आंदोलन किसानों का आंदोलन है और इसका राजनीति से कोई भी लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा, सरकार में आने से पहले बीजेपी नेता गन्ना 450 रुपए प्रति क्विंटल मांगते थे, 5 साल में महंगाई भी बढ़ी है, अब अगर यह लोग 450 ही करें तो गनीमत है। उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री ने 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने की बात की थी। हमें भी 1 जनवरी, 2022 से अपनी फसल के दाम दोगुने चाहिए। अगर इस सरकार ने हमें कुछ नहीं दिया तो हमें भी इसे वोट नहीं देना चाहिए। किसान और युवा अब सरकार को वोट की चोट देने के लिए तैयार हैं।

बीजेपी कर रही यूपी में किसान कल्याण सम्मेलन..

वहीं अब यूपी विधाननसभा चुनाव नज़दीक है तो अब तक किसानों के मामले सोई हुई भाजपा सरकार यूपी में किसान कल्याण सम्मेलन करने जा रही है। यूपी के मुख्यमंत्री योग आदित्यनाथ इस किसान कल्याण सम्मेलन को संबोधित करेंगे। 18 सितंबर को लखनऊ से इसकी शुरुआत की जाएगी। हर विधानसभा से 50 किसान प्रतिनिधि को न्योता दिया जायेगा। अब बीजेपी से नाराज़ किसान इस सम्मेलन से कितना खुश होंगे यह विधानसभा के परिणाम से मालूम हो ही जायेगा।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।