रोज़गार, बहाली, परीक्षा परिणाम पर बढ़ते युवा आक्रोश में राहुल-प्रियंका के सुर

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
राजनीति Published On :


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रोजगार के सवाल पर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने बढ़ती बेरोजगारी और कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) व कई अन्य परीक्षाओं के परिणाम में विलंब को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि सरकार को युवाओं के रोजगार से जुड़ी इन समस्याओं का समाधान करना चाहिए। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि ‘‘मोदी सरकार, रोज़गार, बहाली, परीक्षा के परिणाम दो, देश के युवाओं की समस्या का समाधान दो।”

राहुल गांधी ने ट्वीट के साथ एक खबर भी शेयर की है। जिसमें कहा गया है कि अगस्त में देश में बेरोजगारी दर बढ़कर 8.4 फीसदी पहुंच गई है। मनरेगा के तहत काम कम हो गया है, खरीफ की बुआई भी खत्म हो चुकी है। इसके कारण ग्रामीण इलाकों में 37 लाख रोजगार कम हो गए। बेरोजगारों की संख्या 3.2 करोड़ से बढ़कर 3.6 करोड़ हो गई। इसके साथ ही जुलाई में देश में लेबर फोर्स की संख्या 42.4 करोड़ थी जो अगस्त में बढ़कर 42.8 करोड़ हो गई। इस बढ़ोतरी से बेरोजगारी की संख्या बढ़ी है।

इसके बाद एक अन्य ट्वीट में राहुल गांधी ने कहा कि “12 करोड़ रोज़गार गायब। 5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था गायब। आम नागरिक की आमदनी गायब। देश की खुशहाली और सुरक्षा गायब। सवाल पूछो तो जवाब गायब।

https://twitter.com/RahulGandhi/status/1301824115825881088

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी रोजगार के सवाल पर मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि “2017- SSC CGL की भर्तियों में अभी तक नियुक्ति नहीं हुई। 2018- CGL परीक्षा का रिजल्ट तक नहीं आया। 2019- CGL की परीक्षा ही नहीं हुई। 2020- SSC CGL की भर्तियां निकाली ही नहीं। भर्ती निकले तो परीक्षा नहीं। परीक्षा हो तो रिजल्ट नहीं। रिजल्ट आ जाये तो नियुक्ति नहीं।”

प्रियंका गांधी ने कहा कि “प्राइवेट सेक्टर में छंटनी और सरकारी में भर्तियों पर ताला लगने से युवाओं का भविष्य बर्बाद हो रहा है लेकिन सरकार सच पर पर्दा डालने के लिए विज्ञापनों और भाषणों में झूठ परोस रही है।”

इसके पहले एक अन्य ट्वीट में प्रियंका गांधी ने कहा कि “युवाओं को रोजगार दिए बिना कैसे बनेंगे आत्मनिर्भर? नोएडा में 7000 छोटी व मध्यम आकार की फैक्ट्रियां बंद होने की कगार पर हैं। नए रोजगारों का रास्ता बंद है। पुराने रोजगारों पर ताला बंद। देश व प्रदेश का शासन झूठे विज्ञापनों और झूठ भरे भाषणों से चलाया जा रहा है।

प्रियंका गांधी ने एक सितंबर को ट्वीट कर कहा कि “SSC और रेलवे ने कई सारी परीक्षाओं के परिणाम सालों से रोक कर रखे हैं। किसी का रिजल्ट अटका हुआ है, किसी की परीक्षा। कब तक सरकार युवाओं के धैर्य की परीक्षा लेगी, कब तक? युवाओं की बात सुनिए सरकार। युवा को भाषण नहीं नौकरी चाहिए।”


 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।