जनता तालाबंद, रामलला मुक्तः लॉकडाउन के पहले दिन UP के CM ने किया अयोध्या में अनुष्ठान

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


कोरोना वायरस के आतंक के कारण प्रधानमंत्री मोदी ने बीती रात देशव्यापी तालाबंदी की मीयाद 21 दिनों के लिए बढ़ा कर 25 मार्च से 14 अप्रैल तक कर दी और सभी को घरों में कैद रहने का सख्त आदेश देते हुए इस आदेश को तोड़ने पर क़ानूनी कार्रवाई की बात भी कही. किन्तु इस आदेश को किनारे रख कर उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ धार्मिक अनुष्ठान में लगे हुए हैं.

बुधवार को लॉकडाउन और नवरात्रि के पहले दिन रामलला अस्थायी मंदिर में शिफ्ट हो गए. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रामलला को टिन शेड से निकालकर फाइबर के बने अस्थायी ढांचे के भीतर विराजित किया.

इस मौके पर रामजन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास, ट्रस्ट के सदस्य राजा बिमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र, सदस्य अनिल मिश्रा, ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, दिगंबर अखाड़े के महंत सुरेश दास और योगी सरकार के सबसे बड़े नौकरशाह अवनीश अवस्थी मौजूद थे.

योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा- “अयोध्या करती है आह्वान… भव्य राम मंदिर के निर्माण का पहला चरण आज सम्पन्न हुआ, मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम त्रिपाल से नए आसन पर विराजमान… मानस भवन के पास एक अस्थायी ढांचे में ‘रामलला’ की मूर्ति को स्थानांतरित किया. भव्य मंदिर के निर्माण हेतु ₹11 लाख का चेक भेंट किया.”

दो दिन पहले खुद मुख्यमंत्री योगी ने ही राज्य के लोगों से तालाबंदी का पालन करने का निर्देश दिया था और राज्य के सभी धार्मिक-सामाजिक कार्यक्रमों को स्थगित करने की घोषणा की थी.

कोरोना के अब तक देश में 500 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं और 11 लोगों की मौत हो चुकी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को रात 8 बजे राष्ट्र के नाम संबोधन में लॉकडाउन का ऐलान किया. उन्होंने इस लॉकडाउन को कर्फ्यू जैसा ही बताया. पीएम मोदी ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि जो जहां है, वहीं रहे.


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।