‘मॉब लिंचिंग’ के शिकार हुए मोतिहारी वि.वि. के शिक्षक संजय कुमार की मानसिक दशा बिगड़ी!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


 

दिल्ली के एम्स में इलाज करा रहे मोतिहारी सेंट्रल युनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफ़ेसर संजय कुमार पर मानसिक रूप से असंतुलित होने का ख़तरा मँडरा रहा है। डाक्टरों ने मनोचिकित्सकों से परामर्श लेने की सलारहदी है।  गौरतलब है कि 17 अगस्त को उन्हें मोतिहारी में घर से घसीटकर बुरी तरह पीटा गया था और ज़िंदा जला देने की धमकी दी गई थी। मोबाइल पर इसका वीडियो भी बनाया गया जो वायरल हुआ। घटना के बाद उन्हें इलाज के लिए पहले पटना रेफ़र किया गया और फिर दिल्ली के एम्स।

संजय कुमार को पीटने वालों ने उन्हें घर से निकालकर न सिर्फ़ पीटा था, बल्कि उनके कपड़े भी फाड़ दिए थे। यही नहीं, उनसे ज़बरदस्ती अटल महान हैं भी कहलाया गया था और इस सारे वाक़ये को मोबाइल पर रिकार्ड किया गया था। संजय कुमार की ओर से दी गई तहरीर में कहा गया था कि वे कुलपति के ख़िलाफ़ आंदोलन में शामिल हैं, इसलिए यह हमला हुआ। दैनिक भास्कर के स्थानीय ब्यूरो चीफ़ का भी नाम तहरीर में था। इस मामले में काफ़ी हंगामा हुआ था और विपक्ष ने आरोपितों की तत्काल गिरफ़्तारी के साथ-साथ कुलपति अरविंद अग्रवाल को बरख़ास्त करने की भी माँग की थी।

इस बीच, एम्स में स्वास्थ्य लाभ कर रहे संजय कुमार, उस अपमानजनक हादसे से उबर नहीं पा रहे हैं। वे जेएनयू के पूर्व छात्र हैं और सोशल मीडिया पर ग़रीबों, वंचितों के सवाल पर काफ़ी मुखर थे जिसका उन्हें ‘दंड’ मिला। उनकी बेचैनी ने उनकी मानसिक दशा पर बेहद ख़राब प्रभाव डाला है। इसीलिए अब उन्हें मनोचिकित्सा विभाग से परामर्श के लिए 27 सितंबर की तारीख दी गई है।

उधर, मोतिहारी विश्वविद्यालय में कुलपति के ख़िलाफ़ शिक्षकों का आंदोलन जारी है। शिक्षक संघ कुलपति को हटाने की माँग कर रहा है। उसका यह भी आरोप है कि संजय कुमार की मॉब लिंचिंग की कोशिश एक सोची समझी साज़िश थी जिसकी आशंका व्यक्त करते हुए विश्वविद्यालय के एक शिक्षक ने प्रधानमंत्री कार्यालय को पहले ही शिकायत भेज दी थी। हद तो यह है कि एफआईआर में कुलपति समेत जिन लोगों के नाम हैं, उन पर प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। उल्टा सरकार के स्तर पर उन्हें बचाने की कोशिश भी की जा रही है।

यह भी पढ़ें–

बिहार में युनिवर्सिटी शिक्षक को घर से घसीटकर बुरी तरह पीटा, जिंदा जलाने की धमकी!

बिहार सरगर्म ! शिक्षक को पीटकर अधमरा किया फिर कहलाया-अटल महान हैं!

प्रो. संजय पर हमले के बाद अब मोतिहारी की युनिवर्सिटी में छात्र की पिटाई, छात्राओं के कपड़े फाड़े

 



 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।