कश्मीर: US कांग्रेस ने भारत से पूछा- विदेशी पत्रकारों के प्रवेश पर पाबंदी कब तक?

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
कश्मीर Published On :


अमेरिकी कांग्रेस के छह सदस्यों ने अमेरिका में भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला को एक पत्र लिखकर मांग की है विदेशी पत्रकारों और यूएस कांग्रेस के सदस्यों को कश्मीर में प्रवेश करने की इजाजत दी जाए और बताया है कि भारत जिस तरीके से कश्मीर की तस्वीर दुनिया के सामने पेश कर रहा है वह उन्हें मिली जानकारी से बिलकुल अलग है।

यह पत्र आने से ठीक पहले अमेरिका ने आधिकारिक रूप से भारत से पूछा था कि कश्मीर में सामान्य जनजीवन की बहाली का रोडमैप क्या है। अमेरिका ने भारत से राजनीतिक बंदियों को छोड़ने को भी कहा है। दक्षिण और मध्य एशिया के लिए अमेरिका के कार्यकारी सहायक विदेश सचिव ने यह बयान दिया था।

 

 

अमेरिकी कांग्रेस के सदस्य डेविड सिसिलीन, डायना टिटस, क्रिसी हाउलाहान, एंडी लेविन, जेम्स पी. मैकगवर्न और सुसन वाइल्ड ने भारतीय राजदूत को 24 अक्टूबर को भेजे पत्र में लिखा है कि कश्मीर के हालात पर श्रृंगला ने 16 अक्टूबर को उन्हें जो ब्रीफ दिया था, उसी के आधार पर वे इस पत्र में कुछ सवाल भेज रहे हैं।

बीते 16 अक्टूबर को दक्षिण एशिया में मानवाधिकारों की स्थिति पर अमेरिकी कांग्रेस में चली एक हियरिंग में श्रृंगला से कुल छह सवाल पूछे गए थे। इसके बाद भेजे पत्र में कहा गया है कि उन्हें जो जवाब मिले, वे उन्हें स्वतंत्र रूप से प्राप्त जानकारी से अलग हैं।

पत्र में पूछा गया है कि भारत सरकार अमेरिकी कांग्रेस के सदस्यों, दूसरी विदेशी एजेंसियों और विदेशी पत्रकारों को कश्मीर में प्रवेश करने की अनुमति कब देगी।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।