उन्नाव रेप कांड: पीड़िता की कार को ट्रक ने मारी टक्कर , रेप केस में भाजपा MLA हैं आरोपी

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


उन्नाव से भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर के ऊपर बलात्कार का आरोप लगाने वाली महिला एक ट्रक दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गई है. इस हादसे में पीड़िता के वकील भी गंभीर रूप से घायल हैं.गंभीर रूप से घायल उन्नाव की रेप पीड़िता को लखनऊ ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया. इस हादसे में पीड़िता के परिवार के दो लोगों की मारे जाने की ख़बर है. 

ख़बर के मुताबिक महिला अपने चाचा महेश सिंह से मुलाकात करने रायबरेली जेल जा रही थी. तभी रायबरेली में एक ट्रक से उनकी गाड़ी टकरा गई. उनके साथ उनकी चाची और वकील महेन्द्र सिंह भी मौजूद थे. रेप पीड़िता का चाचा  एक दूसरे मामले में रायबरेली जेल में बंद है.

जिस ट्रक ने कार को टक्कर मारी उसकी नंबर प्लेट के आधे हिस्से पर कला रंग लगा हुआ था। नंबर प्लेट में सिर्फ यूपी 71 लिखा दिखाई दे रहा था.

सोशल मीडिया की तस्वीर

यूपी पुलिस के अनुसार, पीड़िता की सुरक्षा के लिए जिस पुलिस जवान को तैनात किया गया था, घटना के समय वह मौजूद नहीं था.

यूपी से कांग्रेस विधायक अनुराधा मिश्र ने इस मामले की जांच की मांग की है.

गौरतलब है कि इसी पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उन्नाव के बांगरमऊ से भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर ने उसके साथ 4 जून, 2017 को अपने आवास पर दुष्कर्म किया, जहां वह अपने एक रिश्तेदार के साथ नौकरी मांगने के लिए गई थी.

कुलदीप सिंह सेंगर और उनके भाई अतुल सिंह जेल में बंद हैं. कुलदीप के खिलाफ उन्नाव के माखी थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 366, 376, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था. सीबीआई मामले की जांच कर रही है.

बता दें कि, इससे पहले बलात्कार का आरोप लगाने वाली महिला के पिता और इस केस के चश्मदीदों की मौत भी रहस्यमयी तरीके से हो गई है.

पीड़ित नाबालिग लड़की ने आरोप लगाया था कि विधायक कुलदीप सेंगर ने अपने घर पर उस वक़्त उसके साथ बलात्कार किया था जब वो अपने एक रिश्तेदार के साथ उनके घर पर नौकरी मांगने गई थी.

इस मामले में उस वक़्त पीड़ित लड़की की एफ़आईआर पुलिस ने नहीं लिखी थी जिसके बाद लड़की के परिवार वालों ने कोर्ट का सहारा लिया.

उनका आरोप है कि विधायक और उनके साथी पुलिस में शिक़ायत नहीं करने का दबाव बनाते रहे हैं और इसी क्रम में विधायक के भाई ने तीन अप्रैल को उनके पिता से मारपीट भी की. इसके बाद हिरासत में लड़की के पिता की मौत हो गई.

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।