दाभोलकर हत्याकांड: सनातन संस्‍था का वकील और मालेगांव ब्‍लास्‍ट पर किताब का लेखक गिरफ्तार

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :

Photo Courtesy HinduJagriti


सामाजिक कार्यकर्ता नरेंद्र दाभोलकर की हत्या के मामले में सीबीआई ने शनिवार को मुंबई से दो लोगों को गिरफ्तार किया है.

गिरफ्तार किये गये दो लोगों में एक व्‍यक्ति सनातन संस्‍था नामक हिंदू अतिवादी संगठन का वकील संजीव पुनालेकर और दूसरा “मालेगांव ब्लास्ट के पीछे अदृश्य हाथ” नामक किताब का लेखक विक्रम भावे है. सीबीआई अधिकारी के मुताबिक प्रारंभिक जांच से पता चला है कि पुनालेकर दाभोलकर पर हमला करने वालों में से एक है.

केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) अधिकारी ने कहा कि गिरफ्तार किये गये वकील संजीव पुनालेकर और विक्रम भावे सनातन संस्था के सदस्य हैं उन्हें रविवार को पुणे की अदालत में पेश किया जायेगा.गिरफ्तार किये गये एडवोकेट पुनालेकर हिंदू विद्या परिषद नमक एक कानून मंच के अध्यक्ष भी हैं.

26 मई को अदालत ने दोनों आरोपियों को 1 जून तक सीबीआई कस्टडी में भेज दिया है.

ख़बरों के अनुसार दोनों को उस वक्त गिरफ्तार किया गया जब वे 27 मई से 4 जून के दौरान गोवा में होने वाले अखिल भारतीय हिंदू राष्ट्र सम्मेलन में शामिल होने की तैयारी कर रहे थे.

अंधविश्वासों के खिलाफ बोलने वाले सामाजिक कार्यकर्ता दाभोलकर की 20 अगस्त 2013 को पुणे के ओंकारेश्वर पुल पर सुबह टहलते समय गोली मारकर हत्या कर दी गई थी और वकील संजीव पुनालेकर इस केस में आरोपित कुछ लोगों को बचाने के लिए केस लड़ रहे थे.

इससे पहले इस मामले में सचिन प्रकाशराव अंदुरे और हिंदू जन जागृति समिति के सदस्य वीरेंद्र तावड़े को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. इनसे पूछताछ के बाद ही सीबीआई ने पुनालेकर और भावे की गिरफ्तारी की कार्रवाई को आगे बढ़ाया है.

इन गिरफ्तारियों पर सनातन संस्‍था ने अपना विरोध जताते हुए एक विज्ञप्ति जारी की है जिसे नीचे पढ़ा जा सकता है:

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।