मजिस्ट्रेट के सामने पेश आशीष मिश्र से पूछताछ शुरू, अखिलेश बोले – टायरों से कुचल रहा कानून, सिद्धू ने खत्म की भूख हड़ताल!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


पुलिस से लुका-छिपी के बाद अब लखीमपुर किसान हत्याकांड में मुख्य आरोपी मंत्री अजय मिश्रा का बेटा आशीष मिश्रा हिंसा के सातवें दिन क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंच गया है। क्राइम ब्रांच टीम आशीष से पूछताछ कर रही। डीआईजी-एसपी विजय ढुल मौके पर हैं। मजिस्ट्रेट के सामने आशीष मिश्रा से पूछताछ की जा रही है। वहीं पूछताछ के दौरान आशीष मिश्रा के साथ उनके वकील भी मौजूद है। आशीष के साथ सदर विधायक योगेश वर्मा और सांसद प्रतिनिधि संजय सिंह भी मौजूद हैं। इस मामले में आशीष की गिरफ्तारी होगी या रिहाई इसका फैसला पुलिस करेगी।

मंत्री अजय मिश्रा टेनी भी पहुंचे लखीमपुर..

आशीष मिश्र के क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंचे ही समर्थकों ने हंगामा किया। ऑफिस से बाहर समर्थन में समर्थक नारेबाज़ी की। मंत्री अजय मिश्र ने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की है। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी भी इस बीच लखीमपुर पहुंच चुके हैं। शनिवार सुबह ही मंत्री पिता अजय मिश्र टेनी लखीमपुर स्थित अपने कार्यालय में पहुंच गए थे।

नवजोत सिंह सिद्धू ने भूख हड़ताल की खत्म..

बता दें कि बीती रात से हंगामे में मारे गए निघासन के पत्रकार के घर में अनशन मौन पर बैठे कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के क्राइम ब्रांच के सामने पेश होने के बाद अपनी भूख हड़ताल खत्म कर दी है। वहीं लखीमपुर में पुलिस लाइन के सामने भारी भीड़ है।

निष्पक्ष जांच और दोषियों को ही सज़ा: अजय मिश्रा

अजय मिश्रा के घर के बाहर भी समर्थकों का ताता लगा था, मंत्री ने समर्थकों को संबोधित भी किया। इस दौरान उनके पक्ष में भारी नारेबाजी भी हो रही थी। अजय मिश्रा ने कहा कि एक निष्पक्ष जांच होगी और दोषियों को ही सज़ा मिलेगी।

अखिलेश ने कहा – देश में टायर तले कानून कुचला जा रहा है!

एक तरफ आशीष से क्राइम ब्रांच में पूछताछ हो रही वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सरकार पर हमला बोला है। अखिलेश यादव ने कहा, कोर्ट ने कहा है कि यूपी में जंगलराज है। अखिलेश ने कहा कि आशीष को समन नहीं गुलदस्ता भेजा गया। यूपी में समन नहीं सम्मान दिया जा रहा है। यह सरकार लगातार भेदभाव कर रही है। उन्होंने लखीमपुर खीरी घटना के मद्दे नज़र कहा देश टायर तले कानून कुचला जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने कहा दोषियों को सज़ा मिलनी चाहिए। अखिलेश ने कहा, लखीमपुर की घटना का वीडियो जिसने भी देखा उसने घटना की निंदा की है। ये संविधान कुचलने वाली सरकार है। सबने सब कुछ देखा फिर भी दोषी अभी तक नहीं पकड़े गए हैं। जिन भी परिवार से मैं मिला सबने कहा कि दोषी को सज़ा मिले।

इंटरनेट सेवाएं दोबारा चालू…

आशीष को पुलिस ने शुक्रवार को ही पेश होने की नोटिस दी गई थी लेकिन जब वह नहीं पहुंचे तो दुबारा पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 160 के तहत दूसरी नोटिस मंत्री के घर चस्पा कर दी। वहीं पुलिस ने इस मामले के दो आरोपियों को पूछताछ के बाद जेल भेज दिया है। आपको बता दें खबर है कि लखीमपुर खीरी में शुक्रवार देर शाम को फिर से बाद इंटरनेट सेवाएं दोबारा चालू कर दी गई हैं। इससे पहले भी हिंसा वाले दिन इंटरनेट बंद कर दिया गया था।

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।