महिला दिवस से 7 दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने रेप अभियुक्त को सुझाया- पीड़िता से शादी कर लो!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


दुनिया भर में महिलाओं के अधिकार और गरिमा के प्रश्न को लेकर 8 मार्च को महिला दिवस मनाया जाता है। भारत में भी इसकी तैयारी कर रहे लोगों के पास एक हफ्ते पहले एक झटका देने वाली ख़बर आयी। यह ख़बर देश के शीर्ष अदालत से निकली है जहाँ सोमवार को देश के मुख्य न्यायाधीश ए.एस.बोबडे ने एक बलात्कार के आरोपी को पीड़िता से शादी करके राहत पाने का रास्ता सुझाया। फौरी राहत देते हुए अदालत ने आरोपी की गिरफ्तारी पर आठ हफ्ते की रोक लगा दी।

मसला महाराष्ट्र का है जहाँ एक महिला ने राज्य सरकार के कर्मचारी मोहित सुभाष चव्हाण पर शादी के झूठे वादे के बहाने बलात्कार का आरोप लगाया था। जस्टिस बोबडे के अगुवाई में तीन जजों की बेंच ने आरोपी से कहा -‘अगर आप पीड़िता से शादी करना चाहते हैं तो हम आपकी मदद कर सकते हैं। अगर ऐसा नहीं तो आपकी नौकरी चली जाएगी, आपकी नौकरी चली जायेगी, आप जेल जायेंगे। आपने लड़की के साथ छेड़खानी की उसके साथ बलात्कार किया है। ‘

सुभाष चह्वाण पर एक स्कूली छात्रा ने बलात्कार का आरोप लगाया है। याचिकाकर्ता के वकील ने आग्रह किया था कि मुवक्किल की नौकरी जा सकती है। पीड़िता जब पुलिस के पास गयी तो आरोपी की माँ ने शादी की पेशकश भी की थी, लेकिन पीड़िता ने शादी से इंकार कर दिया।

अदालत ने अभियुक्त की गिरफ्तारी पर आठ हफ्ते तक के लिए रोक लगा दी है।

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।