आंध्र प्रदेश: कादरी इलाक़े में ढही 3 मंज़िला इमारत, 3 बच्चों समेत अब तक 17 की मौत, 100 से ज़्यादा लापता!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


इस साल प्राकृतिक आपदा के चलते बहुत से लोगों ने अपनी जान गवाई है। उत्तराखंड हो महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश या हिमाचल प्रदेश भूस्खलन, बाढ़ , बारिश ने बहुत सारे लोगों के घर उजाड़ दिए हैं। वहीं, अब आंध्र प्रदेश में बारिश ने कहर बरपा रखा है। यहां भारी बारिश के कारण 17 लोगों की मौत की खबर है और 100 से ज़्यादा लोगो को लापता बताया जा रहा है। पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण यहां की स्थिति खराब है। कई इलाकों में मकान गिरने की भी जानकारी मिली है।

बारिश से गिरी तीन मंजिला इमारत..

अनंतपुर जिले के कादरी इलाके में बीती देर रात भारी बारिश के कारण एक पुरानी तीन मंजिला इमारत गिरने से तीन बच्चों और एक वृद्ध महिला की मौत हो गई। इमारत के मलबे में चार से ज़्यादा लोगों को फंसा बताया जा रहा हैं। शनिवार को सर्किल इंस्पेक्टर सत्यबाबू ने यह जानकारी दी।

हेलिकॉप्टर और जेसीबी की मदद से बचाए जा रहे लोग…

तिरुपति मंदिर से सामने आई वायरल वीडियो में सैकड़ों तीर्थयात्री भीषण बाढ़ में फंसे हुए दिख रहे हैं। तिरुपति के बाहरी इलाके में स्थित स्वर्णमुखी नदी में बाढ़ आ गई है। बारिश के कारण आई बाढ़ से हालात इतने खराब हैं कि बचाव कार्य के लिए हेलिकॉप्टर और जेसीबी की मदद ली जा रही है।

घाट रोड और तिरुमाला हिल्स के रास्ते बंद कर दिए गए हैं। स्थिति को संभालने के लिए राष्ट्रीय और राज्य आपदा राहत टीमों को तैनात किया गया है और बचाव कार्य ज़ोरों पर है। बाढ़ से कई जगहों पर सड़कें क्षतिग्रस्त हुई हैं और रेल, सड़क और हवाई यातायात प्रभावित हुआ है। रायलसीमा क्षेत्र सबसे अधिक प्रभावित है। राज्य के चित्तूर, कडपा, कुरनूल और अनंतपुर जिले प्रभावित हुए हैं।

कडपा एयरपोर्ट को 25 नवंबर तक के लिए बंद..

बता दें कि गुरुवार से बारिश थमी नहीं है और चेयुरु नदी उफान पर है। इसके चलते कडपा एयरपोर्ट को 25 नवंबर तक के लिए बंद कर दिया गया है। वहीं, बारिश ने तमिलनाडु और केरल में भी व्यवधान पैदा किया है। केरल के पठानमथिट्टा जिले में पंबा नदी में बढ़ते जल स्तर के कारण कल पंबा और सबरीमाला की तीर्थयात्राओं पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।