राहुल-प्रियंका का वार: ‘यूपी में जातीय हिंसा और बलात्कार का जंगल राज चरम पर !’

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


उत्तर प्रदेश में रेप और हत्या के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। एक के बाद एक लगातार रेप और हत्या जैसे गंभीर अपराध के मामले सामने आ रहे हैं। पहले लखीमपुर खीरी में नाबालिग बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दी गई। आजमगढ़ में दलित प्रधान को बेदर्दी से मार दिया गया। और अब गोरखपुर में दिल को दहला देने वाली वारदात सामने आयी है। यहां 17 साल की नाबालिग बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दी गई। यही नहीं दरिंदों ने बच्ची के शरीर को जगह जगह सिगरेट से जलाया भी।

यूपी में लगातार बढ़ रहे रेप और हत्या के अपराधों को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि यूपी में जातीय हिंसा और बलात्कार का जंगल राज चरम पर है। अपराधियों के मन में कानून का कोई डर नहीं है। महिलाओं के खिलाफ अपराध की वीभत्स घटनाएं घटती ही जा रही हैं। पुलिस और प्रशासन न तो सुरक्षा दे पा रहे हैं और न ही उचित कार्रवाई कर पा रहे हैं। उन्होंने योगी सरकार से महिलाओं की सुरक्षा के लिए गंभीरता से जरूरी कदम उठाने की मांग की।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि “यूपी में जातीय हिंसा और बलात्कार का जंगलराज चरम पर है।

अब एक और भयानक घटना- सरपंच सत्यमेव ने दलित होकर ‘ना’ कहा जिसके कारण उनकी हत्या कर दी गयी। सत्यमेव जी के परिवारजनों को संवेदनाएँ।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने गोरखपुर की दर्दनाक खबर को फेसबुक पर शेयर करते हुए लिखा है कि “बुलंदशहर, हापुड़, लखीमपुर-खीरी, और अब गोरखपुर। लगातार इस तरह की घटनाओं से ये साबित होता है कि महिलाओं को सुरक्षा देने में उत्तर प्रदेश सरकार पूरी तरह विफल रही है।

अपराधियों के मन में कानून का कोई डर नहीं है।

उसी का परिणाम है कि महिलाओं के खिलाफ अपराध की वीभत्स से वीभत्स घटनाएं घटती ही जा रही हैं।

पुलिस और प्रशासन न तो सुरक्षा दे पा रहे हैं और न ही उचित कार्रवाई कर पा रहे हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार कानून व्यवस्था की समीक्षा करे और महिलाओं की सुरक्षा सम्बंधित हर कदम गंभीरता से उठाए।

बुलंदशहर, हापुड़, लखीमपुर – खीरी, और अब गोरखपुर। लगातार इस तरह की घटनाओं से ये साबित होता है कि महिलाओं को सुरक्षा देने…

Posted by Priyanka Gandhi Vadra on Sunday, August 16, 2020

 

बता दें कि ये दर्दनाक वारदात गोरखपुर के गोला क्षेत्र की है। 17 वर्षीय नाबालिग शुक्रवार को रात 8 बजे हैण्ड पम्प से पानी भरने गई थी तभी बाइक सवार दरिंदों ने उसे अगवा कर लिया। और उसके साथ रात भर हैवानियत की। इस दौरान उसके शरीर को जगह जगह सिगरेट से जलाया भी। शनिवार की सुबह नाबालिग लड़की बेहोशी की हालत में एक खंडहर में मिली। पुलिस ने डेहरीभार-धौंसहर के रहने वाले अर्जुन निषाद और एक अज्ञात के खिलाफ अपहरण, सामूहिक रेप और एससीएसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

प्रियंका गांधी ने इसके पहले एक अन्य फेसबुक पोस्ट में एक वीडियो शेयर करते लिखा है कि “उत्तर प्रदेश पुलिस मानवीय संवेदना को दरकिनार करते हुए गरीब किसान को जिस तरह से प्रताड़ित कर रही है यह किसी भी सभ्य समाज में स्वीकार नहीं किया जा सकता और न ही किसी तरह की माफी के योग्य है।

इस तरह की घटना पुलिस की बर्बरता को दर्शाती है और साथ ही पुलिस के पूरे ढांचे में व्यापक बदलाव की ओर इशारा करती है। मुझे उम्मीद है कि सरकार इस घटना का संज्ञान लेगी और उचित कार्रवाई करेगी साथ ही पीड़ित की हर संभव मदद करेगी”।

Lalitpur Farmer

उत्तर प्रदेश पुलिस मानवीय संवेदना को दरकिनार करते हुए गरीब किसान को जिस तरह से प्रताड़ित कर रही है यह किसी भी सभ्य समाज में स्वीकार नहीं किया जा सकता और न ही किसी तरह की माफी के योग्य है। इस तरह की घटना पुलिस की बर्बरता को दर्शाती है और साथ ही पुलिस के पूरे ढांचे में व्यापक बदलाव की ओर इशारा करती है। मुझे उम्मीद है कि सरकार इस घटना का संज्ञान लेगी और उचित कार्रवाई करेगी साथ ही पीड़ित की हर संभव मदद करेगी ।

Posted by Priyanka Gandhi Vadra on Monday, August 17, 2020

 


 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।