पंजाब: खालिस्तानी आतंकी कहने से नाराज़ किसानों ने घेरी कंगना रनौत की कार, माफी मांगकर निकली कंगना!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


अपने विवादित बयानों से सुर्खियों में रहने वाली बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को शुक्रवार को पंजाब में किसानों के विरोध का सामना करना पड़ा। मनाली से मुंबई जाते समय पंजाब के करतारपुर में प्रदर्शनकारी किसानों ने कंगना के काफिले को घेर लिया और उनके बयानों के लिए माफी मांगने को कहने लगे। बढ़ते तनाव को देखते हुए भारी पुलिस बल भी मौके पर बुला लिया गया।

काफी देर तक हंगामा चलता रहा। करीब दो घंटे के बाद आखिरकार कंगना ने माफी मांगी जिसके बाद किसानों ने उन्हें जाने दिया। इस घटना के दौरान ही कंगना ने एक वीडियो जारी किया, जिसमे वह कह रही हैं कि मॉब ने मुझे घेर लिया है, वो खुद को किसान कह रहे हैं। ये लोग मुझे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। अगर पुलिस न हो तो सरे आम लिंचिंग हो। पहले तो कंगना ने गाड़ी में बैठ भीड़ के खिलाफ वीडियो बनाकर यह बयान दियाा, लेकिन बाद में कंगना ने हार मानते हुए किसानों से माफी मांग ही ली।

कंगना ने महिला से माफी मांगी..

बता दें, कंगना की गाड़ी को घेरने वाले प्रदर्शनकारियों में बड़ी संख्या में महिलाएं भी मौजूद रहीं। प्रदर्शन कर रहे किसानों ने कहा कि कई बार कंगना ने किसानों और किसान महिलाओं के बारे में गलत शब्दों का इस्तेमाल किया है। ऐसे में जब तक वह माफी नहीं मांगती तब तक उनके काफिले को आगे नहीं जाने दिया जाएगा। घंटों तक चले हंगामे के बाद पुलिसकर्मी एक महिला प्रदर्शनकारी को कंगना की कार के पास ले गए। कंगना ने महिला से माफी मांगी, जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने भांगड़ा करना शुरू कर दिया। कंगना भी कार से उतर कर हाथ हिलाते नज़र आई।

आपको बता दें आज जिन पंजाब के किसानों ने कंगना से मांगी मंगवाई उन्हीं के खिलाफ कंगना रनौत ने अपना गुस्सा जाहिर करते हुए उन्हें खालिस्तानी तक बताया था। जब प्रधानमंत्री मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान किया था तो कंगना रनौत ने किसानों को खालिस्तानी आंकवादी कहकर बुलाया था।

पहले प्रदर्शनकारी महिलाओं के खिलाफ बोलीं थी कंगना..

वहीं, जब किसान आंदोलन की शुरुआत हुई थी तब भी कंगना ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक पंजाबी बुजुर्ग महिला की फोटो शेयर करते हुए लिखा कि ऐसे लोग चंद रुपये लेकर आंदोलन में पहुंच जाते हैं। कंगना के इस कमेंट के बाद पंजाब की महिलाओं में उनके खिलाफ काफी नाराज़गी देखने को मिली थी। तभी से किसान कंगना का विरोध कर रहे थे।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।