देश में सिर्फ PM के खरबपति दोस्त सुरक्षित, जब तक गृह राज्य मंत्री इस्तीफा नहीं देंगे, हम लड़ते रहेंगे: प्रियंका गांधी

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रविवार को वाराणसी में किसान न्याय रैली में सीएम योगी और पीएम मोदी पर जमकर हमले किये। रैली को संबोधित करने से पहले प्रियंका गांधी ने काशी विश्वनाथ और दुर्गा मंदिर में दर्शन पूजन किया। जिसके बाद उन्होंने लखीमपुर हिंसा, किसानों महंगाई और आम जनता के हक में सरकार के खिलाफ आवाज़ बुलंद की। प्रियंका ने कहा कि लखीमपुर खीरी मामले में गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे तक हम लड़ते रहेंगे। प्रियंका ने ये भी कहा की यह देश भाजपा पदाधिकारियों और प्रधानमंत्री की संपत्ति नहीं है। लखीमपुर खीरी में जो हुआ उसे पूरा देश देख चुका है। गृह राज्य मंत्री के बेटे ने छह किसानों को बेरहमी से कुचल दिया।

“मैं सरकार से पूछती हूं कि घटना के लिए कौन जिम्मेदार है”: प्रियंका

प्रियंका ने कहा मैं छह के छह परिवारों से मिली सब का यही कहना है कि हमें पैसा नहीं चाहिए, हमें मुआवज़ा नहीं चाहिए, हमें न्याय चाहिए। लेकिन हमें न्याय दिलाने वाला इस सरकार में नहीं दिख रहा है। प्रियंका ने कहा कि जब मैं लखीमपुर में किसान नक्षत्र सिंह के घर गई तो परिवार ने बताया कि उनका बेटा बीएसएफ में दाखिल हो गया है। जब मैं पत्रकार रमन कश्यप के घर गई तो मुझे बताया गया कि उन्हें जीप के नीचे कुचल दिया गया है। क्योंकि वो सच का वीडियो बना रहे थे। मैं सरकार से पूछती हूं कि घटना के लिए कौन जिम्मेदार है।

…. डरेंगे नहीं, मुंहतोड़ जवाब देंगे!

प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री अभी तक लखीमपुर में किसानों से मिलने नहीं गए हैं। प्रधानमंत्री दुनिया के हर कोने की यात्रा कर सकते हैं। आप देश घूम सकते हैं लेकिन अपने देश के किसानों से मिलने नहीं जा सकते। पीएम मोदी लखनऊ आए लेकिन किसानों के घर दुख बांटने नहीं जा सके। आप आज़ादी का उत्सव मना रहे हैं, लेकिन आज़ादी किसने दी। आज़ादी किसानों के बेटों ने दी है। इस उत्सव का क्या मतलब है। किसानों को वे आंदोलनजीवी, आतंकवादी और पता नहीं क्या-क्या कहते हैं। योगी जी उन्हें गुंडे कहते है और उन्हें धमकाने की कोशिश होती है। वहीं, मंत्री अजय कुमार मिश्रा ने कहा कि वह 2 मिनट के भीतर विरोध कर रहे किसानों को सुधार देंगे। प्रियंका ने कहा कि हम डरेंगे नहीं। आइए हमारे साथ हम मुंहतोड़ जवाब देंगे।

क्या मोदी जी जानते हैं किसानों का क्या हाल है?

वहीं, अपने भाषण के दौरान प्रियंका गांधी ने प्रदेश सरकार के बाद केंद्र सरकार पर हमला बोला। कृषि कानूनों को लेकर प्रियंका ने कहा कि मोदी जी ने कुछ देखा है? क्या उन्होंने राज्य के किसानों का हाल देखा है? क्या वे जानते हैं कि किसानों को किन मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, क्या मोदी जी जानते हैं कि आवारा पशुओं की वजह से किसान परेशान हैं। प्रियंका गांधी ने कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए कहा कि मोदी जी के अरबपति मित्रों ने पिछले साल हिमाचल से 88 रुपये किलो सेब खरीदा था। लेकिन इस बार जब लागत महंगी है तो वही सेब 77 रुपये किलो बिक रहा है। वे अपने मन से सेब की कीमत तय कर रहे हैं। क्या इससे किसानों को फायदा हुआ?

देश में कोई भी सुरक्षित नहीं है: प्रियंका

किसान न्याय रैली में महंगाई के मुद्दे पर भी प्रियंका गांधी ने सरकार को घेरा। जीडीपी की बढ़ती कीमतों का जिक्र करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि 100 रुपये के पार पेट्रोल है, 90 रुपये डीजल, एक हजार का सिलेंडर मिल रहे हैं। बेरोजगारी चरम सीमा पर है। बिजली के दाम तीन बार बढ़े, जिनके घर में बिजली नहीं है, उनके घर का भी बिजली का बिल आता है। ऐसे दिनों की किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। सिर्फ बड़े-बड़े पोस्टर ही नज़र आ रहे हैं। देश और राज्य प्रभावित रहे हैं। किसी को भी मारा जा रहा है। देश में कोई सुरक्षित नहीं है। केवल मोदी जी और उनके खरबपति दोस्त ही सुरक्षित हैं। किसानों के पास पैसे नहीं हैं और मोदी जी दो-दो विमान खरीद रहे हैं। केंद्र सरकार ने सिर्फ धोखा दिया है।

पीएम ने 8 हज़ार करोड़ का हवाई जहाज़ लिया, एयर इंडिया को 18 हज़ार करोड़ में बेचा…

प्रियंका ने सीएम पर हमला करते हुए कहा, शहरों की सफाई करने वालों के प्रति अपशब्द कहे। लोग दुखी और प्रभावित हैं। आप इन मुसीबतों और संघर्षों से गुजर रहे हैं जबकि पीएम के खरबपति दोस्त रोज़ाना हज़ारों करोड़ कमा रहे हैं। कोरोना काल में जब रोजगार बंद था तब भी सरकार ने राहत नहीं दी। देश के हवाई अड्डे, रेलवे उनके दोस्तों को सौंप दिए गए। पीएम ने अपने लिए दो हवाई जहाज लिए, आठ हजार करोड़ का एक हवाई जहाज और देश की एयर इंडिया को 18 हजार करोड़ में बेचा और कहा कि देश तबाह हो रहा है, इसे पहचानिए। सच बोलने से क्यों डरते हैं। यह चुनाव के बारे में नहीं है, यह देश के बारे में है।

खुद से पूछें भाजपा सरकार में कितना विकास किया है: प्रियंका

अगर आप जागरूक और बुद्धिमान नहीं बनेंगे तो आप न तो खुद को बचा पाएंगे और न ही देश को। आपकी मेहनत ने इस देश को बनाया है। आपको आतंकवादी कहने वालों को न्याय दिलाने के लिए मजबूर करें। यह देश भाजपा पदाधिकारियों और प्रधानमंत्री की संपत्ति नहीं है, यह आपका देश है। मुझे जेल में डालो, हम तब तक लड़ते रहेंगे जब तक गृह राज्य मंत्री इस्तीफा नहीं देते। अपने अंतर्मन में देखिए, प्रश्न पूछिए, क्या इन सात वर्षों में आपके जीवन में प्रगति हुई है, क्या भाजपा सरकार आने के बाद आपके जीवन में कोई बदलाव आया है? क्या विकास का रथ आपके द्वार पहुंच गया है? खुद से पूछें कि भाजपा सरकार में आपका कितना विकास किया है। अगर नहीं किया है तो हमारे साथ आइए, देश को बचाने के लिए बदलाव जरूरी है। अपने भाषण के अंत में प्रियंका ने नवरात्रि की शुभकामनाएं दीं।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।