पुलिस हिरासत में मारे गये अरुण वाल्मीकि के परिवार से मिलीं प्रियंका, 30 लाख और क़ानूनी मदद का ऐलान

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


प्रियंका गांधी वाड्रा बुधवार देर रात आगरा पहुंचीं और वहां पुलिस हिरासत में कथित तौर पर मारे गए सफाईकर्मी अरुण वाल्मीकि के परिजनों से मुलाकात कर प्रियंका गांधी ने उन्हें हर संभव न्याय का भरोसा दिलाया। परिजनों से मिलने के बाद वह भावुक हो गईं। प्रियंका ने अरुण की पत्नी और मां को गले लगाते हुए कहा कि घबराएं नहीं। हिम्मत रखें। वह उन्हें न्याय दिलाएगी। प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर भी हमला किया। अरुण की मां कमला देवी और पत्नी सोनम ने बताया की प्रियंका ने उन्हें आश्वासन दिया है कि वह उनके बच्चों को पढ़ा लिखा कर शादी करेंगी। प्रियंका गाँधी ने कांग्रेस की ओर  से परिवार को तीस लाख रुपये और हर संभव कानूनी मदद दिलाने का वादा किया।

योगी सरकार ने राज्य को कुछ नहीं दिया: प्रियंका

आगरा में मृतक सफाईकर्मी के परिजनों से मुलाकात के बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि यूपी में इंसाफ का नामोनिशान नहीं है। लॉ एंड ऑर्डर पूरी तरह फेल हो गया है। देश में लोगों को न्याय नहीं मिल रहा है। उन्होंने योगी सरकार पर वार करते हुए कहा कि योगी सरकार ने राज्य को कुछ नहीं दिया। सब लोग बड़ी-बड़ी बातें ही करते हैं। आज लोग अपने घरों में सुरक्षित नहीं हैं। उन्हें घर से घसीटा जा रहा है। मृतक कर्मचारी के पीड़ित परिवार का आगरा में शोषण किया जा रहा है।

प्रियंका गांधी ने कहा, गरीबों, दलितों और महिलाओं की कोई नहीं सुन रहा है। इन सब से यह स्पष्ट है कि प्रदेश की भयावह स्थिति है। यह आज़ाद भारत नहीं है। प्रियंका ने पुलिस सुरक्षा पर बात करते हुए कहा कि हमारी सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मी हैं। अगर वे हमारे साथ कुछ गलत करते हैं, तो सुरक्षा का क्या मतलब हैै? प्रियंका ने बताया कि परिवार भरतपुर का रहने वाला है और कहा कि परिवार को गहलोत सरकार से मुआवज़ा दिलवाऊंगी।

“दीदी प्रियंका बहुत अच्छी हैं, वह हमारी मदद करेंगी”

प्रियंका गांधी से मिलने के बाद अरुण की मां कमला देवी और पत्नी सोनम ने कहा कि दीदी प्रियंका बहुत अच्छी हैं। वह हमारी मदद करेंगी। तीनों बच्चों को पढ़ाएंगी और उनकी शादी भी कराएंगी। हम उनसे मिलकर बहुत खुश हुए। हमारी सारी परेशानी दूर हो गई। बता दें कि कांग्रेस महासचिव करीब 52 मिनट परिवार वालों के साथ रहीं। परिजनों से मिलने के बाद वह भावुक हो गईं। उसने तीनों बच्चों को गोद में उठा लिया। प्रियंका ने कहा कि अपने जीवन में ऐसा उत्पीड़न उन्होंने कभी नहीं सुना, लेकिन अब चिंता न करें, वह उनके साथ खड़ी हैं।

प्रियंका के पूछनेेेेेेेे पर अरुण की मां और पत्नी ने पूरा वाकया उन्होंने बताया कि पुलिसकर्मियों ने उनके पति अरुण और उन्हें खूब पीटा। गंदी गालियां दी। सारा सामान लूट लिया। कपड़े तक फाड़ दिए। सब कुछ तबाह कर दिया। मृतक अरुण की पत्नी सोनम ने प्रियंका को बताया कि उसने पुलिस वालों के हाथ-पैर भी जोड़े, लेकिन कोई नहीं माना। उनको जो करना था, उन्होंने किया। प्रियंक ने अरुण की पत्नी और मां को गले लगाया और कहा कि घबराएं नहीं। हिम्मत रखें। वह उन्हें न्याय दिलाएगी।कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मृतक के घरवालों से कहा कि वह उन्हें 30 लाख रुपये दिलवाएंगी। परिवार के सदस्यों को जल्द ही यह राशि मिल जाएगी।

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।