यूपी में महिला सुरक्षा को लेकर राज्यपाल से प्रियंका की गुहार- हालात ख़राब, संज्ञान लें!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


 

उत्तर प्रदेश में दलित-पिछड़ों और महिलाओं के खिलाफ अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। हर दिन किसी न किसी जिले में महिलाओं व मासूम बच्चियों से रेप व हत्या की घटनाएं सामने आ रही है। इसी कड़ी में यूपी के लखीमपुर खीरी जिले में 17 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दी गई।

यूपी में लगातार बिगढ़ रही कानून व्यवस्था व महिला सुरक्षा को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी लगातार सवाल उठा रही हैं। लखीमपुर खीरी में बच्ची की रेप के बाद हुई हत्या को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है। प्रिंयका गांधी ने लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को लिखा है कि यूपी में महिला सुरक्षा के हालात बहुत खराब हो चुके हैं। लखीमपुर की एक लड़की ऑनलाइन फॉर्म भरने जा रही थी। उसकी बलात्कार कर नृशंस तरीके से हत्या हो गई। यूपी में ऐसा अब रोज हो रहा है। आशा है आप इसकी गंभीरता समझेंगी और संज्ञान में लेंगी।

लखीमपुर खीरी पुलिस ने प्रियंका गांधी के ट्वीट पर कमेंट कर जवाब दिया है। लखीमपुर खीरी पुलिस ने लिखा है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रेप होने की पुष्टि हुई है, मामले में केस दर्ज कर लिया गया है. इसके अलावा टीम का गठन कर आरोपियों की तलाश जारी है. साथ ही गांव में अतिरिक्त सुरक्षा लगाई गई हैस, ताकि माहौल ना बिगड़े.

लखीमपुर खीरी में दस दिन के अंदर नाबालिग बच्ची से रेप और हत्या की यह दूसरी वारदात है। इससे पहले 15 अगस्त को एक 13 साल की लड़की की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। उसका शव गन्ने के खेत में मिला था। इस मामले में उसके गांव के दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

इसके पहले 25 अगस्त को प्रियंका गांधी ने यूपी में पत्रकारों की हत्या को लेकर यूपी सरकार पर निशाना साधा था। प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा था कि..

19 जून – श्री शुभममणि त्रिपाठी की हत्या

20 जुलाई – श्री विक्रम जोशी की हत्या

24 अगस्त- श्री रतन सिंह की हत्या, बलिया

पिछले 3 महीनों में 3 पत्रकारों की हत्या।

11 पत्रकारों पर खबर लिखने के चलते FIR।

यूपी सरकार का पत्रकारों की सुरक्षा और स्वतन्त्रता को लेकर ये रवैया निंदनीय है।

 

एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी में अराधिक घटनाओं का एक ग्राफिक्स शेयर करते हुए कहा था कि यूपी में अपराध सड़कों पर तांडव कर रहा है। प्रियंका गांधी ने ट्विट कर कहा कि “यूपी के सीएम सरकार की स्पीड बताते हैं और अपराध का मीटर उससे दोगुनी स्पीड से भागने लगता है। प्रत्यक्षम् किम् प्रमाणम्। ये यूपी में केवल दो दिनों का अपराध का मीटर है। यूपी सरकार बार-बार अपराध की घटनाओं पर पर्दा डालती है मगर अपराध चिंघाड़ते हुए प्रदेश की सड़कों पर तांडव कर रहा है।

प्रियंका गांधी ने बस्ती में महिला प्रधान प्रभावती की हत्या को लेकर सवाल उठाए थे। प्रियंका गांधी ने कहा कि “वंचित तबकों व महिलाओं का पंचायती राज व्यवस्था में प्रतिनिधित्व हो इसके लिए संविधान में व्यवस्था की गई। लेकिन यूपी में कुछ दिनों पहले आजमगढ़ में सत्यमेव जयते की हत्या और अब बस्ती में प्रभावती की हत्या हो जाना साफ दिखाता है कि यहां अपराधियों का राज संविधान व कानूनी राज पर हावी है।”

 


 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।