मोदी के हनुमान चिराग़ बोले- नीतीश को संतुष्ट करने के लिए मुझ पर बेहिचक वार करें पीएम!


उन्होंने उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित कई भाजपा नेताओं के उस बात का जवाब भी दिया हैं, जिसमें उन्हें (लोजपा) को महज़ वोटकटवा कहा जा रहा है। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, आप मेरा जितना विरोध करना चाहते हैं करें, पार्टी पापा की है। भाजपा नेताओं के वोटकटवा कहने वाले बयान से आहत हूं। पार्टी को ऐसा कहना पापा का अपमान है।


मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


लोक जनशक्ति पार्टी अध्यक्ष चिराग़ पासवान ने कहा है कि बीजेपी उनका विरोध करे लेकिन पार्टी को वोटकटवा बताना रामविलास पासवान का अपमान है जिन्होंने यह पार्टी बनायी थी। चिराग़ इन दिनों राम विलास पासवान की अचानक हुई मृत्यु से शोक मना रहे हैं, लेकिन राजनीतिक बयानबाज़ी में कोई कमी उन्होंने नहीं की है। वे एनडीए से अलग चुनाव लड़कर हर हाल में नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री की कुर्सी से हटाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी नीतीश को ख़ुश करने के लिए उन पर बेहिचक वार करें।

आज फिर नीतीश कुमार पर हमला करते हुए उन्होंने ट्वीट किया हैं, “आदरणीय नीतीश कुमार जी ने प्रचार का पूरा ज़ोर मेरे और प्रधानमंत्री जी के बीच दूरी दिखने में लगा रखा है। बाँटो और राज करो की नीति में माहिर मुख्यमंत्री जी हर रोज़ मेरे और भाजपा के बीच दूरी बनाने का प्रयास कर रहे हैं।” आगे उन्होंने लिखा हैं कि मैं नहीं चाहता की मेरी वजह से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी किसी धर्मसंकट में पड़े। वे अपना गठबंधन-धर्म निभायें। आदरणीय मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को संतुष्ट करने के लिए मेरे ख़िलाफ़ भी कुछ कहना पड़े तो निस्संकोच कहे।

साथ ही, उन्होंने मुख्यमंत्री को एक सलाह देते हुए कहा कि नीतीश कुमार जी को भाजपा के साथियों का धन्यवाद करना चाहिए की वे मुख्यमंत्री के ख़िलाफ़ इतना आक्रोश होने के बावजूद गठबंधन-धर्म निभा रहे हैं और हर दिन नीतीश कुमार जी को प्रमाणपत्र देते है की वे चिराग के साथ नहीं है।

माना जा रहा है चिराग पासवान का यह ट्वीट अमित शाह के बयान के जवाब में आया है। एक इंटरव्यू के दौरान अमित शाह ने कहा है कि लोजपा खुद एनडीए से बाहर गयी है। फिलहाल तो लोजपा एनडीए के खिलाफ मैदान में है। एनडीए में सिर्फ चार दल (भाजपा, जदयू, मुकेश सहनी की वीआईपी और पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी की हम) हैं और सभी इकट्ठे एक दूसरे को जिताने में जुटेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी से अपने रिश्तों के बारे में ट्वीट करते हुए लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने कहा, मेरे और प्रधानमंत्रीजी के रिश्ते कैसे हैं मुझे यह प्रदर्शन करने की ज़रूरत नहीं है। पापा जब अस्पताल में थे तब से लेकर उनकी अंतिम यात्रा तक उन्होंने मेरे लिए जो कुछ किया उसे मैं कभी नहीं भूल सकता।

साथ ही, उन्होंने उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित कई भाजपा नेताओं के उस बात का जवाब भी दिया हैं, जिसमें उन्हें (लोजपा) को महज़ वोटकटवा कहा जा रहा है। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, आप मेरा जितना विरोध करना चाहते हैं करें, पार्टी पापा की है। भाजपा नेताओं के वोटकटवा कहने वाले बयान से आहत हूं। पार्टी को ऐसा कहना पापा का अपमान है।

ग़ौरतलब है कि चिराग़ ख़ुद को प्रधानमंत्री मोदी का हनुमान बता चुके हैं। उन्होंने यहाँ तक कह दिया था कि मेरा सीना चीर कर देखा जाये तो उसमें मोदी जी की तस्वीर मिलेगी। ज़ाहिर है, बीजेपी के नेताओं के हमले उन्हें बरदाश्त नहीं हो रहे हैं, लेकिन सवाल तो ये है कि उनका विद्रोह, कहीं बीजेपी की स्क्रिप्ट का हिस्सा तो नहीं जिसका मक़सद चुनाव बाद नीतीश की जगह अपने किसी नेता के नेतृत्व में बिहार में सरकार बनाना है। हनुमान तो अंतत: मोदी काज को ही समर्पित हैं।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।