ओमिक्रॉन: नए वैरिएंट का डर, बूस्टर खुराक लेने के लिए विदेश जा रहे लोग!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट का खतरा दुनिया भर के लिए चिंता बन गया है। इसके मामले बढ़ते जा रहें हैं भारत में ही अब इसके 21 मामले हो गए है। इनमे दो कर्नाटक, एक गुजरात, एक दिल्ली, आठ महाराष्ट्र और नौ गुजरात में है। वैक्सीन के बाद भी ओमिक्रॉन का संक्रमण फैल रहा है जिसे देखते हुए कई देश अपने नागरिकों को बूस्टर डोज दे रहे हैं, लेकिन भारत में अभी तक इस पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। इस बीच एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। रिपोर्ट्स में सामने आया है कि भारत के कई लोग दूसरे देशों में जाकर बूस्टर डोज ले रहे हैं। इन लोगों में बड़े औद्योगिक घरानों या बड़ी कंपनियों में उच्च पदों पर काम करने वाले लोग शामिल हैं।

लोग अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को लेकर चिंतित..

आपको बता दें कि बूस्टर खुराक टीकों की नियमित खुराक से अलग होती है। यह उस समय दिया जाता है जब व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है। हालांकि अभी तक कोविड में बूस्टर डोज से होने वाले फायदों को लेकर कोई वैज्ञानिक आधार या शोध सामने नहीं आया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उद्योग जगत के लोगों का कहना है कि वे जानते हैं कि उनकी कंपनी के कई कर्मचारी बूस्टर खुराक लेने के लिए भारत से बाहर यात्रा कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि लोग अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को लेकर चिंतित हैं, इसलिए वे चिकित्सकीय परामर्श के बाद विदेश यात्रा कर रहे हैं। एक बड़ी कंपनी के टॉप एग्जिक्यूटिव का कहना है कि उनके कई कर्मचारी बूस्टर डोज के लिए अमेरिका जा चुके हैं। भारत के लोग जो बूस्टर खुराक के लिए विदेश यात्रा कर रहे हैं। उनके पसंदीदा देश ब्रिटेन और अमेरिका हैं। वहीं फाइजर की अतिरिक्त डोज लेने वाले भी दुबई जा रहे हैं।

कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट को देखते हुए देश में बूस्‍टर डोज की चर्चा..

कोरोना वैक्सीन की अतिरिक्त खुराक को लेकर कई बैठकें भी हो चुकी हैं। कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट को देखते हुए देश में बूस्‍टर डोज की चर्चा होने लगी है। केंद्र सरकार और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय एक ओर जहां लोगों से कोरोना की दोनों डोज लेने की अपील कर रहे हैं वहीं बूस्‍टर डोज को लेकर भी अहम बैठक की जा रही है। वैज्ञानिक आधार या शोध हो या न हो लेकिन वैज्ञानिकों ने इसकी जरूरत बताई है, ऐसे में जल्द ही केंद्र सरकार बूस्टर डोज को लेकर गाइडलाइंस जारी कर सकती है।

संभव है कि पहले चरण में बुजुर्गों और कमजोर इम्युनिटी वाले लोगों को बूस्टर डोज दी जाए। वहीं, पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के मामलो की बात करे तो 8,895 नए मामले सामने आए हैं। अब कुल संक्रमितों की संख्या 3,46,33,255 हो गई। वहीं, बिहार में आंकड़ों का पुनर्मिलान किए जाने के बाद एक दिन में मृत्यु के 2,796 मामले सामने आए। देश में महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 4,73,326 हो गई है।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।