NCRB रिपोर्ट: दुष्कर्म के मामलों में दूसरे स्थान पर तो हत्या व अपराध में नंबर वन है यूपी!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


साल 2020 से महिलाओं और मासूम बच्चियों से दुष्कर्म का कोई न कोई मामला रोज़ ही सुनने में आ रहा है। अब इसपर राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) ने बुधवार को आंकड़े जारी किए है जिसके मुताबिक, पूरे देश से 2020 में महिलाओं से दुष्कर्म के रोजाना 77 मामले दर्ज किए गए। पिछले साल दुष्कर्म के कुल 28,046 मामले दर्ज किए गए। रिपोर्ट के मुताबिक बीते साल पूरे देश में महिलाओं के विरूद्ध अपराध के कुल 3,71,503 मामले दर्ज किए गए हैं।

महिलाओं के खिलाफ हुए अपराधिक मामलों की बात करे तो 2020 के मुकमले 2019 और 2018 में ज़्यादा अपराधिक मामले दर्ज कराए गए थे।

एनसीआरबी के मुताबिक…

  • 2020- 3,72,503 मामले
  • 2019- 4,05,326 मामले
  • 2018- 3,78,236 मामले दर्ज किए गए

वहीं दुष्कर्म के मामलों की बात करे तो 2020 में लॉकडाउन और कोरोना महामारी के बावजूद दुष्कर्म के मामलों में थोड़ी-बहुत ही कमी आई। दुष्कर्म के मामले की संख्या इस प्रकार है..

  • 2020- 28,046  दुष्कर्म के मामले दर्ज हुए, इन पीड़ितों में 25,498 वयस्क, जबकि 2,655 पीड़ित 18 साल से कम उम्र की थीं।
  • 2019- 32,033 दुष्कर्म के मामले दर्ज हुए थे
  • 2018 – 32,559 मामले दर्ज हुए थे।
  • 2017 – 32,559 दुष्कर्म के मामले दर्ज हुए थे
  • 2016- 38,947 मामले थे।

किस राज्य में कितने मामले दर्ज हुए..

  1. राजस्थान में पिछले साल बलात्कार के सबसे ज्यादा 5,310 मामले दर्ज किए गए।
  2. दूसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश है जहां पिछले साल  2,339 मामले दर्ज हुए है।
  3. मध्य प्रदेश में 2,339 बलात्कार के मामले दर्ज हुए।
  4. 2,061 मामले महाराष्ट्र में दर्ज हुए।
  5. 1,657 मामले असम में दर्ज किए गए।
  6. 997 मामले राष्ट्रीय राजधानी में दर्ज किए गए हैं।

 

किसके द्वारा ज्यादा किए गए अपराध?

  • 2020 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के 1,11,549 मामलों दर्ज हुए इनमे,सबसे ज्यादा ‘पति या रिश्तेदारों द्वारा क्रूरता’ की श्रेणी के थे।
  • 62,300 मामले अपहरण के थे।
  • 3,741 मामले बलात्कार की कोशिश के थे।
  • 105 मामले तेज़ाब हमले के दर्ज किए गए।
  • 2020 में 6,966 मामले दहेज की वजह से मौत के दर्ज किए गए जिनमें 7,045 पीड़िताएं शामिल थीं।

हत्या और अपराध में यूपी आगे..

हत्या की वारदातों को देखे तो राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के अनुसार 2020 के दौरान हर दिन देश में औसतन 80 लोगों की हत्या को अंजाम दिया गया। जिनमे उत्तर प्रदेश राज्यों के चार्ट में सबसे ऊपर है। 2019 के मुकाबले हत्या के मामलों में 2020 में एक फीसदी का इ्जाफा दर्ज किया गया है।

  • 2020-  पूरे देश में 29,193 लोगों की मौत हत्या के कारण हुईं।
  1. उत्तर प्रदेश – 3,779
  2. बिहार – 3150
  3. महाराष्ट्र- 2163
  4. मध्य प्रदेश- 2101
  5. पश्चिम बंगाल – 1,948 हत्या के मामले दर्ज हुए हैं।

 

एनसीआरबी की रिपोर्ट के मुताबिक देश में इतनी आयु के लोगो की इतनी प्रतिशत मौतें हुई..

  • 38.5%  हत्या पीड़ित 30-45 वर्ष आयु वर्ग के थे।
  • 35.9% 18-30 वर्ष की आयु वर्ग के थे।

हत्या के मामलों में उत्तर प्रदेश नंबर वन पर है। यूपी के मुख्यमंत्री यूपी को राम राज्य, अपराध मुक्त राज्य बताते नही ताकते है। लेकिन एनसीआरबी की रिपोर्ट उनके दावों की अलग की कहानी बता रही है। महिलाओं के लिए यूपी को सुरक्षित बताने वाले योगी का राज्य यूपी दुष्कर्म के मामलों में दूसरे स्थान पर है।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।