Home ख़बर NCRB रिपोर्ट: देश में रोज़ाना 31 किसान करते हैं आत्महत्या! महाराष्ट्र शीर्ष...

NCRB रिपोर्ट: देश में रोज़ाना 31 किसान करते हैं आत्महत्या! महाराष्ट्र शीर्ष पर

SHARE

देश में हर महीने 948 किसान आत्महत्या कर रहे हैं। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) ने बीते शुक्रवार को जारी रिपोर्ट में कहा है कि 2016 में देशभर में 11,379 किसानों ने आत्महत्या की थी। इनमें 6,270 किसान और 5,109 खेतिहर मजदूर शामिल हैं। रिपोर्ट के मुताबिक हर महीने 948 यानी रोजाना औसतन 31 किसान आत्महत्या कर रहे हैं।

किसानों की आत्महत्या पर पिछली रिपोर्ट 2015 में जारी की गई थी। उसके बाद से सरकार ने इस रिपोर्ट को जारी नहीं किया था।

किसानों की आत्महत्या के मामले में महाराष्ट्र पहले स्थान पर है। साल 2016 में इस राज्य में सर्वाधिक 3661 किसानों ने आत्महत्या की। इससे पहले 2014 में यहां 4,004 और 2015 में 4291 किसानों ने आत्महत्या की थी। महाराष्ट्र में 2013 से लेकर 2018 के बीच 15,000 से ज्यादा किसानों ने आत्महत्या की है।

chapter-2 suicides

इन छह सालों में आत्महत्या की कुल 15,356 घटनाओं में से 396 मामले इस साल के पहले दो महीनों के दौरान दर्ज किए गए।

आत्महत्या करने वाले कुल किसानों में से केवल 8.6 फीसदी किसान महिलाएं थीं।

महाराष्ट्र सरकार ने एक आरटीआई आवेदन के जवाब में बताया है कि साल 2013 से लेकर 2018 के बीच 15,356 किसानों ने राज्य में आत्महत्या की। इनमें 1 जनवरी 2019 से 28 फरवरी 2019 के बीच 396 मामले सामने आए हैं।

kisan suicide

महाराष्ट्र के बाद कर्नाटक का स्थान है। 2016 में 2,079 किसानों ने आत्महत्या की। इससे पहले 2015 में राज्य में 1,569 किसानों ने आत्महत्या की थी।

इस रिपोर्ट में आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं किया गया है। इससे पहले की रिपोर्ट में आत्महत्या के कारणों का खुलाया किया जाता रहा है। उन रिपोर्ट में फसल बेकार होना, बीमारी, पारिवारिक समस्याएं और कर्ज आदि श्रेणियों में कारण बताए जाते थे।

ADSI-2016 FULL REPORT

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.