महाराष्ट्र: अहमदनगर ज़िला अस्पताल में आग लगने से 11 की मौत, जाँच के आदेश

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


महाराष्ट्र के अहमदनगर स्थित सिविल अस्पताल में शनिवार सुबह भीषण आग लगने से 11 मरीजों की मौत हो गई। जिला अस्पताल के आईसीयू वार्ड में आग लगी थी। इस हादसे में मरने वाले सभी कोरोना मरीज़ हैं। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने इस हादसे की कड़ी जांच के आदेश दिए हैं।

आग में घायल हुए लोगों को दूसरे अस्पताल में किया गया शिफ्ट..

अस्पताल में लगी आग से घायल हुए मरीजों को पास के दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आग लगने के तुरंत बाद अस्पताल कर्मियों और स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पाने का प्रयास किया गया, जिसके बाद मौके पर पहुंची दमकल की कई गाड़ियों ने आग पर काबू पाया।

CM ने दिए लापरवाही करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश..

इस घटना पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने शोक जताते हुए कहा कि पूरे मामले की जांच की जाएगी। साथ ही लापरवाही करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। वहीं, मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से बताया गया कि आग की घटना के बारे में सूचना मिलते ही मुख्यमंत्री ने इस घटना के बारे में पालकमंत्री हसन मुशरिफ और मुख्य सचिव से बात की और वहां इलाज करा रहे मरीजों को किसी भी तरह की समस्या न हो इस बात का ध्यान रखने के लिए कहा। साथ ही उन्होंने जिलाधिकारी को घटना की गहन जांच कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं।

मृतकों के परिजनों को मुआवजा देने का ऐलान..

सरकार की ओर से इस घटना में मारे गए लोगों के परिवारों को मुआवजा देने का भी ऐलान किया गया है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा, ”यह एक बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और मैं उन मरीजों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं, जिन्होंने आग में अपनी जान गंवाई। मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये की तत्काल सहायता राशि देने की घोषणा की जा रही है। दुर्घटना की जांच कलेक्टर द्वारा की जाएगी और एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट सौंपी जाएगी।”


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।