फ्रंट लाइन वॉरियर्स पर ख़तरा कम नहीं हुआ, महाराष्ट्र में 700+ पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


अभी तक की ख़बरों को देखें तो ये किसी एक राज्य में कोरोना फ्रंटलाइन वॉरियर्स के कोरोना संक्रमित होने का सबसे बड़ा आंकड़ा है। महाराष्ट्र में रविवार को जारी किए गए पुलिसकर्मियों के आंकड़ों के मुताबिक 22 मार्च से अब तक 786 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं और फिलहाल एक्टिव केस 703 हैं।

महाराष्ट्र पुलिस द्वारा जारी किए गए डेटा के मुताबिक राज्य में अबतक 88 पुलिस अधिकारियों और 698 पुलिसकर्मियों को जांच में कोरोना से संक्रमित पाया गया। इनमें से 13 अधिकारी और 63 पुलिसकर्मी फिलहाल बीमारी से रिकवर कर चुके हैं। लेकिन अभी भी 75 अधिकारी, कोरोना की चपेट में हैं और ठीक नहीं हो सके हैं। साथ ही 628 पुलिसकर्मी भी अभी तक कोरोना संक्रमण से जूझ रहे हैं। इसके अलावा ये महामारी 7 पुलिसकर्मियों की जान ले चुकी है। 

महाराष्ट्र पुलिस द्वारा जारी आंकड़े

महाराष्ट्र, देश में कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित राज्य है, जहां 10 मई की सुबह जारी आंकड़े के मुताबिक कोरोना के 20228 मामले सामने आ चुके हैं। यहां पुलिसकर्मियों के लिए इस समय फ्रंटलाइन वॉरियर्स के तौर पर अहम ज़िम्मेदारी है। पुलिस द्वारा ही जारी एक और आंकड़े के मुताबिक इस दौरान पुलिसकर्मियों पर 200 बार हमले हो चुके हैं और इन मामलों में 732 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। 

इसके पहले मुंबई में बड़ी संख्या में पत्रकारों के भी कोरोना संक्रमित होने का मामला सामने आ चुका है। लेकिन इतनी बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों का संक्रमित होना, न केवल एक तरह से सामुदायिक संक्रमण की स्थिति ला सकता है। बल्कि साथ ही ये सवाल और बड़ा हो जाता है कि फ्रंट लाइन वॉ़रियर्स के पास सुरक्षा किट्स अभी भी पूरी तरह से हैं या नहीं हैं?


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।