बिहार: NDA में दरार! सुशील मोदी का जेडीयू सांसद पर विरोध का आरोप


बीजेपी नेता सुशील मोदी ने शनिवार को अपनी एक सभा में कहा कि मुझे मालूम हुआ कि जदयू सांसद गठबंधन विरोधी कार्य कर रहे हैं. मैंने उनसे परसों ही फोन पर कहा- अजय मंडल जी आप भाजपा और जदयू के कारण ही सांसद बने हैं. मुझे पता चला है कि आप मतदाताओं में भ्रम फैला रहे हैं. आपका भी चुनाव आएगा तब जनता आपको जवाब देगी.


मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


बिहार विधासनभा चुनाव में 16 जिलों के 91 सीटों के लिए दूसरे चरण में 3 नवंबर को मतदान होना है. इसके लिए आज प्रचार का आख़िरी दिन है. लेकिन इसी बीच एनडीए के सहयोगी दलों के बीच आपस में अनबन की ख़बर अब सार्वजनिक हो चुकी है. मामला कुछ यूँ हुआ कि चेतावनी देने तक पहुंच गया है. भाजपा ने आरोप लगाया है कि जदयू सांसद गठबंधन विरोधी काम कर रहे है. दरअसल, उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने खुले मंच से ही जदयू सांसद को चेतावनी दे दी है. सुशील कुमार मोदी ने जदयू के भागलपुर से सांसद अजय मंडल को सीधे-सीधे कहा कि वे गठबंधन विरोधी कार्य कर रहे हैं.

बीजेपी नेता सुशील मोदी ने शनिवार को अपनी एक सभा में कहा कि मुझे मालूम हुआ कि जदयू सांसद गठबंधन विरोधी कार्य कर रहे हैं. मैंने उनसे परसों ही फोन पर कहा- अजय मंडल जी आप भाजपा और जदयू के कारण ही सांसद बने हैं. मुझे पता चला है कि आप मतदाताओं में भ्रम फैला रहे हैं. आपका भी चुनाव आएगा तब जनता आपको जवाब देगी.

हालांकि अजय मंडल सभा में मौजूद नहीं थे. बाद में उन्होंने आरोप को सिरे से खारिज कर दिया और कहा कि मैं एनडीए के साथ हूँ. डिप्टी सीएम सुशील मोदी को गलतफहमी हो गई होगी. मैंने कोई भी काम गठबंधन विरोधी नहीं किया है.

अपने पूर्व के विधायकों पर एक और सभा में आरोप लगाते हुए उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि हमारी पार्टी ने पहले जिन्हें विधायक बनाया था, जो पांच साल गोवा और मुंबई में मौज मस्ती करते थे, आज वे विरोधी से पैसा लेकर वोट काटने के लिए चुनावी मैदान में उतर गए हैं.

कहा जा रहा है कि जदयू सांसद अजय मंडल का ऑडियो वायरल हो रहा है. जिसमें वे एक निर्दलीय प्रत्याशी के पक्ष में लोगों को और जेडीयू कार्यकर्ताओं को वोट करने की अपील कर रहे हैं.

गौरतलब हो कि भाजपा और जदयू के बीच अनबन की ख़बरें तब जाहिर हो गई, जब बिहार एनडीए से अलग होकर लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने सिर्फ जदयू के खिलाफ़ चुनावी मैदान में उतरने की बात की. जबकि केंद्र में लोजपा भाजपा के साथ एनडीए में है. एक और स्थिति को एनडीए में दरार के रूप में देखा जा रहा है. जब प्रधानमंत्री मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के रहते राम-मंदिर की बात की थी. उन्होंने कहा था कि जो लोग राम-मंदिर बनाने की तिथि पूछा करते थे, आज वे ताली बजा रहे हैं. जाहिर है वे नितीश कुमार को टारगेट कर बोल रहे थे. प्रतिक्रिया स्वरूप भाजपा को घेरते हुए सीएम नीतीश कुमार ने अपनी एक सभा में जाति आधारित आरक्षण की बात कर दी. और कहा कि अगर केंद्र सरकार जाति आधारित जनगणना करवाती है तो हमारी सरकार उसके अनुसार आरक्षण लागू करेगी.


Related