MSP लूट कैलकुलेटर: मार्च में एम.पी. के किसानों से 226.55 करोड़ की लूट हुई!


जय किसान आंदोलन के संस्थापक योगेंद्र यादव ने कहा कि केंद्र सरकार किस बेशर्मी से झूठ बोलती है, इसका पता किसी भी नजदीकी मंडी में जाकर लगाया जा सकता है। किसी भी फसल पर सरकार एमएसपी दिलाने में सक्षम नहीं है पर एमएसपी है, थी, रहेगी जैसे जुमले लोगों को थमाए जा रहें हैं।


मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


जय किसान आंदोलन के MSP लूट कैलकुलेटर ने आज मध्यप्रदेश के किसानों का जायज़ा लिया। इसके मुताबिक 1 से 31 मार्च के बीच मध्यप्रदेश के किसानों के साथ 226.55 करोड़ की लूट हुई।

जय किसान आंदोलन के मुताबिक एमएसपी की तुलना में सबसे कम दाम मिलने के मामले में ज्वार उत्पादक किसानों की स्थिति सबसे बुरी थी क्योंकि उसे ₹2620 की तुलना में औसतन केवल ₹1292 ही मिल पाए यानी ज्वार उत्पादक किसान को ₹1328 प्रति क्विंटल की लूट सहनी पड़ी। वहीं कुल लूट के मामले में गेहूं उत्पादक किसानों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। इन 31 दिनों में मध्य प्रदेश के गेहूं उत्पादक किसान की कुल ₹79.18 करोड़ की लूट हुई जबकि चना और मक्का उत्पादक किसानों की ₹77.07 करोड़ और ₹45.67 करोड़ की लूट हुई। (पूरी सूचना संलग्न तालिका में है)।

 

जय किसान आंदोलन के संस्थापक योगेंद्र यादव ने कहा कि केंद्र सरकार किस बेशर्मी से झूठ बोलती है, इसका पता किसी भी नजदीकी मंडी में जाकर लगाया जा सकता है। किसी भी फसल पर सरकार एमएसपी दिलाने में सक्षम नहीं है पर एमएसपी है, थी, रहेगी जैसे जुमले लोगों को थमाए जा रहें हैं।

जय किसान आंदोलन के राष्ट्रीय संयोजक अवीक साहा ने कहा कि #MSPLootCalculator नियमितता से सरकारी आँकड़ों का इस्तेमाल करते हुए प्रधानमंत्री के हवाई दावे का भंडाफोड़ कर रहा है।

#MSPLootCalculator
स्रोत: AGMARKNET

मीडिया सेल | जय किसान आंदोलन
99991 50812


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।