रोमन में हिंदी लिखने के खतरे: योगी ने कहा गड्ढा, मीडिया ने समझा गदहा



मीडिया में खबरों का लेखन मूर्खता की हदों को पार करता जा रहा है। रविवार को समाचार एजेंसी ANI UP  ने एक ख़बर जारी की जिसमें उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ का निम्‍न बयान कोट किया गया:

”हम लोगों ने ये सुनिश्चित करने को कहा है कि 15 जून के अंदर उत्‍तर प्रदेश की सड़के गड्ढा मुक्‍त हो जाएं- यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ”

चूंकि ट्वीट हिंदी में था लेकिन देवनागरी में नहीं, रोमन में लिखा गया था इसलिए गड्ढा को मीडिया ने गदहा समझ लिया। नतीजा खुद देख लीजिए:

यह मामला सामने आने पर फर्स्‍अपोस्‍ट और टाइम्‍स ऑफ इंडिया ने अपनी खबर का शीर्षक बदल दिया तो हफिंगटन पोस्‍ट ने खबर ही हटा दी। दिक्‍कत यह है कि गूगल पर चूंकि इतनी जल्‍दी बदलाव होना मुमकिन नहीं है, इसलिए donkey-free road से तमाम शीर्षक अब भी वहां देखे जा सकते हैं।

इस मामले में अमेरिकी मीडिया ज्‍यादा अडि़यल है। अमेरिका की एक वेबसाइट ने अब भी खबर में कोई तब्‍दीली नहीं की है। वहां गधामुक्‍त सड़कें ही बनाई जा रही हैं।

 


Related