कवि यश मालवीय ने रामदेव को भेजा एक करोड़ का नोटिस ! ‘स्वदेशी गीत’ चुराने का आरोप !



चीन को ग़ैरक़ानूनी ढंग से चंदन भेजने के मामले में फँसे रामदेव अब गीत चोरी के मामले में भी फँस गए गए हैं। इलहाबाद निवासी वरिष्ठ गीतकार यशमालवीय ने उन पर गीत चोरी का आरोप लगाते हुए एक करोड़ का दावा ठोक दिया है।

इलहाबाद हाईकोर्ट के वरिष्ठ वकील के.के.राय ने इस संबंध में जानकारी देते हुए अपनी फ़ेसबुक दीवार पर लिखा है–

प्रख्यात कवि यश मालवीय जी का एक बहु प्रसारित गीत ” स्वदेशी राग ” ही गाना को चुरा कर अपना बता कर रामदेव और बालकृष्ण ने उसे संगीत मय प्रस्तुति के साथ अपने व्यवसाय में डाल दिया है ।

यह गीत यश मालवीय ने 1991 में लिखा जो पहली बार 1993 मे ” आजादी बचाओ आंदोलन ” के पुस्तिका में छपा । यश जी के स्वर में यह यू ट्यूब पर भी मौजूद है ।

इस चोरी को कॉपी राइट एक्ट और इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी राइट्स के तहत घोर अपराध है

 

ये गीत ख़ुद यश मालवीय की आवाज़ में यू ट्यूब पर सुनिए–

 

और नीचे देखिए, वह वीडियो जिसमें इस गीत का इस्तेमाल रामदेव करते नज़र आ रहे हैं।

 

 

 



 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।