ग्रेटर कश्‍मीर के पत्रकार को सुरक्षाबलों ने घर से उठाया, चौबीस घंटे बाद भी परिवार को सुराग नहीं

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


ग्रेटर कश्‍मीर के पत्रकार इरफान अमीन मलिक के परिवार ने आरोप लगाया है कि 14 अगस्‍त की रात उन्‍हें कुछ सुरक्षाबल के लोग घर से उठाकर ले गए और अब तक वे लापता हैं।

ग्रेटर कश्‍मीर सबसे ज्‍यादा प्रसार संख्‍या वाला कश्‍मीरी अख़बार है। मलिक त्राल के रहने वाले थे। परिवार की मानें तो 14 अगस्‍त की रात साढ़े ग्‍यारह बजे सुरक्षाबलों के कोई दस से पंद्रह जवान उनके घर में आए और मलिक को पकड़कर त्राल के स्‍थानीय थाने ले गए। त्राल कश्‍मीर के पुलवामा जिले में पड़ता है।

न्‍यूज़लॉन्‍ड्री की रिपोर्ट के मुताबिक इरफान के पिता मोहम्‍मद अमीन मलिक ने बताया कि सुरक्षाबलों ने उनसे पूछा कि उनका बेटा इरफान कौन है। उन्‍होंने यह कहते हुए बलों को रोका कि वे खुद अगली सुबह थाने पर आ जाएंगे लेकिन वे नहीं माने।

सुरक्षाबलों ने इरफान के पिता को बताया कि उन्‍हें गिरफ्तार करने के ऊपर से आदेश हैं। अगले दिन इरफान के पिता जब सुबह दस बजे थाने गए तो वहां इरफान को पाया। एसएचओ ने उनसे कहा कि वे इस मामले में अवंतीपुरा के एसएसपी से मिलें।

चौबीस घंटा बीत जाने के बाद अब तक परिवार को इस गिरफ्तारी का कारण नहीं बताया गया है। इरफान पिछले तीन साल से अखबार के लिए काम कर रहे थे। वे पुलवामा को कवर करते हैं।

इरफान का परिवार जब अखबार के श्रीनगर दफ्तर आया तो वहां मौजूद पत्रकारों की मदद से मीडिया सेंटर पहुंचा और यह खबर सामने आ सकी।


न्‍यूज़लॉन्‍ड्री पर प्रकाशित आयुष तिवारी की रिपोर्ट से साभार


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।