Home ख़बर संत आत्‍मबोधानंद ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, 25 अप्रैल तक मांगें नहीं...

संत आत्‍मबोधानंद ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, 25 अप्रैल तक मांगें नहीं मानी गईं तो जल-त्‍याग

SHARE

गंगा की धारा को निमन और निरंतर बनाए रखने की मांग को लेकर हरिद्वार के मातृ सदन में पिछले कुछ महीनों से उपवास पर बैठे स्‍वामी आत्‍मबोधानंद ने प्रधानमंत्री को शुक्रवार को एक पत्र भेजा है।

उन्‍होंने पत्र में गंगा की स्‍वच्‍छता और निर्मलता को लेकर वही सारी मांगें उठायी हैं जिन्‍हें स्‍वामी सानंद उर्फ प्रोफेसर जीडी अग्रवाल ने उठाया था और अनशन पर बैठकर अपनी जान दे दी थी।

स्‍वामी आत्‍मबोधानंद ने स्‍वामी सानंद की मौत को सुनियोजित हत्‍या करार देते हुए प्रधानमंत्री को चेतावनी दी है कि यदि गंगा से जुड़ी मांगें 25 अप्रैल तक नहीं मानी गईं तो 27 अप्रैल से वे जल भी त्‍याग देंगे।

Shri Narendra Modi Ji PM of India Dt. 19-04-2019

स्‍वामी आत्‍मबोधानंद ने विस्‍तार से बताया है कि कैसे उन्‍हें प्रशासन ने प्रताडना दी है और उन्‍हें जान से मारने की कोशिश की है। उन्‍होंने जिलाधिकारी दीपक रावत और मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर गंभीर आरोप लगाए हैं और कहा है कि प्रशासन मिलकर मातृ सदन के साधुओं को खत्‍म करने का षडयंत्र कर रहा है।

उत्तराखंड में अनशनरत युवा संत आत्मबोधानंद ने अपने अनशन के 177वें दिन 18 अप्रैल 2019 को सरकार को खुली चेतावनी दी है। गौरतलब है कि इनके समर्थन में दिल्‍ली के जंतर-मंतर पर भी 84 दिनों से अनशन जारी है।

3 COMMENTS

  1. गंगा मैय्या की जै बोलो भक्तों । पन्नी फेंक देते हैं? लंदन की थेम्स नदी थोड़ी है । नाला बने तो बने ।
    हम भारत के लोग जिसे मां कहते हैं उस की दुर्दशा कर देते हैं।—परसाई।
    http://jansandesh.in/परसाई-की-एक-गोभक्त-से-भेंट/160
    हर हर मोदी। हर हर योगी। हर हर आशा – राम रहीम
    धर्म रक्षार्थ कठुआ मे 8 वर्ष की म्लेच्छ बालिका से मंदिर में रेप करनेवाले और उनके भाजपा के समर्थक चिरंजीवी हो।

  2. भारत में यू ट्यूब पर शायद सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले कथित रूप से ईमानदार जिलाधिकारी दीपक रावत का असली वर्ग चरित्र यही है। कितने श्रम कानूनों की लाशों के ऊपर हरिद्वार मे उत्पादन होता है। हिम्मत नहीं कि बडे पूजीपतियों के ऊपर हाथ डालें।है क्या।

LEAVE A REPLY

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.