2020 में ट्रेन हादसों में हर रोज़ 32 लोगों ने गँवाई जान, क्रॉसिंग पर हादसों में यूपी नंबर 1 : NCRB

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


रेल दुर्घटनाओं के बारे में अक्सर आप खबरों पड़ते होंगे, लेकिन क्या कभी इस बात पर गौर किया है कि आए दिन सामने आने वाली रेल दुर्घटना की खबरे या फिर जो वायरल वीडियो आप देखते हैं। ऐसी ही साल भर में कितनी दुर्घटनाएं हुई होंगी? इन दुर्घटनाओं में कितनी मौतें हुई होंगी? ऐसी ही घटनाओं का खुलासा करने वाली नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की रिपोर्ट में  साल 2020 में कितनी रेल दुर्घटनाएं हुई इसका खुलासा किया गया गई।

हर साल जारी होने वाली एनसीआरबी की रिपोर्ट में बताया गया है कि 2020 में देशभर में 13 हज़ार से ज़्यादा रेल दुर्घटनाएं हुईं। इनमे से मौतों का 70% यानी 8400 मौतें ट्रेन से गिरने या फिर रेलवे ट्रैक पार करते समय हुई। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि 2020 में ट्रेन हादसों में प्रतिदिन मरने वालों की संख्या 32 थी।

महाराष्ट्र में सबसे ज़्यादा ट्रेन हादसे..

  • 1922 लोगों की मौतों के साथ महाराष्ट्र ट्रने हादसो में नंबर वन पर हैं।
  • दूसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश है यहां रेल हादसों में 1558 लोगों की मौत हुई है।

यूपी के पास रेलवे क्रॉसिंग हादसे का शर्मनाक रिकॉर्ड..

केंद्र की रिपोर्ट के अनुसार, रेलवे क्रॉसिंग पर हुए हादसों में उत्तर प्रदेश अव्वल है। वहीं दूसरे नंबर पर बिहार और तीसरे नंबर पर मध्य प्रदेश है।

2019 में पिछले साल से ज़्यादा रेल हादसे..

  • 2019 -27,987 रेल दुर्घटनाएं हुई थीं।
  • 2020 – 13,018 रेल हादसे हुए थे। इनमे 9117 हादसे ऐसे है, जहां यात्री की मौत ट्रेन से गिरने या फिर क्रॉसिंग या अन्य जगहों पर ट्रेन के सामने आने से हुई।

2019 की तुलना में 2020 के आंकड़े काम है। रेल दुर्घटनाओं की स्थिति में सुधर का एक बड़ा कारण लॉकडाउन भी हैं, जिस दैरान संक्रमण की वजह से ट्रेन बंद कर दी गई थी।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।