हरियाणा के भाजपा मीडिया प्रभारी ने 10 करोड़ में मांगा भंसाली का सिर, मोदी को भी ललकारा

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
आयोजन Published On :

बीच में मंचस्‍थ फूलन देवी के हत्‍यारे शेर सिंह राणा और भाषण देते हुए हरियाणा भाजपा के मुख्‍य मीडिया संयोजक सूरज पाल सिंह अमू


सहारनपुर में ‘जय राजपुताना’ के नाम पर कुछ माह पहले दलितों का घर जलाने वाले लोगों ने आज दिल्‍ली के बीचोबीच तालकटोरा स्‍टेडियम में खड़े होकर फिल्‍म ‘पद्मावती’ के फिल्‍मकार संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण की गरदन काटने के लिए 10 करोड़ रुपये का एलान कर डाला। घोषणा करने वाले शख्‍स का नाम है कुंवर सूरज पाल अमू, जो हरियाणा बीजेपी के मुख्‍य मीडिया संयोजक हैं और मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के करीबी माने जाते हैं।

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के 121वें स्थापना दिवस और राष्ट्रीय क्षत्रिय मिलन समारोह के अवसर पर हिन्दुस्तान की रियासतों से महाराजा बांकनेर, महाराजा आभागढ व महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष महेन्द्र सिहं तंवर व फूलन देवी के हत्‍यारे शेर सिंह राणा, युवराज कुँवर अम्बरीश पाल सिंह, सुप्रीम कोर्ट के बरिष्ठ अधिवक्ता ठाकुर ए.पी.सिंह व राजस्थान से महीपाल सिंह मकराना, विधायक श्याम सिंह राणा व अनेक राजपूत हस्तियों के बीच गला काटने की घोषणा सरेआम की गई।

अभी पांच ही दिन हुए हैं जब हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से ‘उचित दूरी’ बनाए रखने के लिए सोनीपत के जिला सूचना अधिकारी ने एक आधिकारिक पत्र जारी किया था। मीडिया को दो हाथ दूर रखने के फ़रमान के बाद के बाद बीजेपी के नेता अब सीधे गला काटने का फ़रमान जारी करने पर उतर आए हैं। दिलचस्‍प यह है कि इस आयोजन में फूलन देवी का हत्‍यारा शेर सिंह राणा भी शामिल था जिसका नाम सहारनपुर की दलित विरोधी हिंसा में सामने आया था।

जब अमू से न्‍यूज़ 18 के पत्रकार ने एलान के बारे में पूछा तो उनका कहना था कि राजपुताना ने देश के लिए खून बहाया है और मेरठ के राजपुताने के सदस्‍य ने जो पांच करोड़ रुपये देने की बात कही है, उसे वे जनता से पैसे जुटाकर दस करोड़ तक देने को तैयार हैं। पत्रकार के यह पूछने पर कि आप सीधा-सीधा फ़तवा जारी कर रहे हैं, वे बोले, ”फ़तवा मुसलमान जारी करते हैं। हम हिन्‍दू हैं।”

आप हत्‍या के लिए लोगों को उकसा रहे हैं, पत्रकार के यह पूछने पर अमू ने कहा, ”हत्‍या किसे कहते हैं… सेल्‍फ डिफेंस हत्‍या नहीं होती मेरे मित्र।”

अमू ने आयोजन में भाषण देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह को लालकारते हुए कहा कि उन्‍हें राजपूतों की इज्‍जत के मसले पर अब बोलना तो पड़ेगा। उन्‍होंने कहा कि वैसे तो वे खुद भाजपा के मीडिया प्रभारी हैं, लेकिन राजपूत आन, बान और शान के लिए उन्‍हें भाजपा से इस्‍तीफा भी देना पड़ेगा तो दे देंगे लेकिन फिल्‍म ‘पद्मावती’ को रिलीज़ नहीं होने दिया जाएगा।

ये वीडियो खुद सूरज पाल सिंह अमू ने अपने फेसबुक से जारी किए हैं।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।