दुनिया भर की महिला पत्रकारों के साहस को नया सलाम है ‘वेलवेट रिवॉल्‍यूशन’

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
आयोजन Published On :


एशिया की महिलाओं के लिए समर्पित इकलौते फिल्‍म महोत्‍सव का 13वां संस्‍करण दिल्‍ली में अगले महीने आयोजित होने जा रहा है। इसमें प्रदर्शित होने वाली महिला फिल्‍मकारों की बनाई तमाम फिल्‍मों में आकर्षण का केंद्र रहेगी ‘वेलवेट रिवॉल्‍यूशन’ जिसमें दुनिया भर की साहसी महिला पत्रकारों को प्रोफाइल किया गया है। बस्‍तर में काम करने वाली पत्रकार मालिनी सुब्रमण्‍यम इनमें एक हैं।

इंटरनेशनल असोसिएशन ऑफ विमेन इन रेडियो एंड टेलीविज़न (आइएडब्‍लूआरटी) द्वारा आयोजित किया जाने वाला एशियन विमेंस फिल्‍म महोत्‍सव दिल्‍ली के इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में 2 से 4 मार्च 2017 के बीच आयोजित किया जाएगा। इसमें आई कुल 200 प्रविष्टियों में 17 फिल्‍मों को प्रदर्शन के लिए चुना गया है। प्रदर्शन का उद्घाटन जॉर्डन की फिल्‍मकार असमा सीसो की फिल्‍म लीसा आइशा से होगी। यह फिल्‍म एक त्‍याग दी गई बच्‍ची के ऊपर कई बरस तक फिल्‍माई गई है। वह आज आइशा नाम की वयस्‍क महिला है।

इस महोत्‍सव में ‘वेलवेट रिवॉल्‍यूशन’ एक लंबे वृत्‍तचित्र के रूप में सामने आ रही है जिसे भारतीय पत्रकार नूपुर बसु ने पोचि ताम्‍बा सो, सिडोनी पोंगमोनि, दीपिका शर्मा, इलांग-इलांग किजानो और इवा ब्राउनस्‍टीन के साथ मिलकरतैयार किया है। इसका प्रदर्शन 3 मार्च की शाम 4 बजे होगा। इसे कैमरून, भारत, फिलीपींस, अमेरिका और ब्रिटेन में फिल्‍माया गया है। फिल्‍म उन महिला पत्रकारों पर आधारित है जो अपने देशों में रहते हुए या फिर प्रवासी के रूप में खतरनाक युद्धग्रस्‍त इलाकों से अहम खबरों की रिपोर्टिंग कर रही हैं।

इस कोलैबोरेटिव फिल्‍म यानी कई फिल्‍मकारों द्वारा बनाई गई संयुक्‍त फिल्‍म में छह निर्देशक ऐसी महिला पत्रकारों को प्रोफाइल कर रहे हैं। इनमें पुरस्‍कार विजेता सीरियाई पत्रकार ज़ैना एरहाइम हैं जो आजकल दक्षिणी तुर्की में रह रही हैं। फिलीपींस की युवा पत्रकार किम्‍बर्ली गाबित कितासोल और बांग्‍लादेश के मारे गए ब्‍लॉगर अविजित रॉय की पत्‍नी बॉनया अहमद पर भी फिल्‍म में दिखाया गया है। यह डॉक्‍युमेंट्री उन महिला पत्रकारों को प्रोफाइल करती है जिन्‍होंने सच बोलने की भारी कीमत चुकाई है।

उन्‍हीं में एक हैं बस्‍तर से रिपोर्ट करने वाली भारतीय पत्रकार मालिनी सुब्रमण्‍यम और जाति के सवाल पर काम करने वाले एक तेलुगु मासिक ‘महिला नवोदयम्’ की पत्रकार भी शामिल हैं। मालिनी को हाल ही में बस्‍तर छोड़ने के लिए डराया-धमकाया गया था और छत्‍तीसगढ़ की सरकार ने उन्‍हें पत्रकार मानने से ही इनकार कर दिया था। ‘वेलवेट रिवॉल्‍यूशन’ ऐसी ही महिला पत्रकारों की जिजीविषा और काम को समर्पित है।

फिल्‍म महोत्‍सव के शेड्यूल और ज्‍यादा जानकारी के लिए IAWRT की वेबसाइट देखी जा सकती है।

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।