5 राज्यों में चुनाव तारीखों का ऐलान आज, 3.30 बजे EC की प्रेस कॉन्फ्रेंस!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


चुनाव आयोग आज 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीख का ऐलान करेगा। शनिवार दोपहर साढ़े तीन बजे इस संबंध में चुनाव आयोग की कांफ्रेंस होगी। चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही पांच राज्यों में आचार संहिता लग जाएगी। चुनावों की घोषणा के बाद जानकारी मिल पाएगी कि किस राज्य में कितने चरण में और किन-किन तारीखों को वोटिंग होनी है। हालांकि मीडिया सूत्रों की मानें तो यूपी में 6 से 7 चरणों में चुनाव कराया जा सकता है। जिन 5 राज्यों में चुनाव होने हैं उनमें उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर, पंजाब और गोवा शामिल है।

पांच राज्यों की इतनी विधानसभा सीटें पर चुनाव…

दरअसल, उत्तर प्रदेश में 403 विधानसभा सीटें हैं। उत्तराखंड में 70 सीटें हैं। इसके अलावा पंजाब में 117, मणिपुर में 60 तो वहीं, गोवा में 40 विधानसभा सीटों पर फरवरी-मार्च में चुनाव होना है। साथ ही इस साल के आखिर में हिमाचल प्रदेश और गुजरात में भी विधानसभा होने हैं। हालांकि आज 5 राज्यों की तारीखों का ही पता चलेगा। साथ ही नामांकन, स्क्रूटनी, परिणाम आदि के तारीखों की भी जानकारी मिल जाएगी।

EC ने चुनावी राज्यों में कोविड-19 की स्थिति का लिया जायजा..

बता दें कि इसी हफ्ते कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट के बढ़ते मामलों के बीच चुनाव आयोग ने स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ कई दौर की बातचीत की है और सभी चुनावी राज्यों में कोविड-19 की स्थिति का जायजा भी लिया है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि कुछ नए नियमों का भी ऐलान हो सकता है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा और 403 विधानसभा सीटें हैं। इतना ही नहीं इस राज्य में जिस पार्टी की सरकार बनती है उसका केंद्र तक जाने का रास्ता लगभग साफ हो जाता है। यहीं कारण भी है जिससे सभी पार्टियां उत्तर प्रदेश की ज़्यादा से ज़्यादा सीटों पर जीत पाने की कोशिश में लगी हुईं हैं। हालांकि टक्कर सभी राज्यों में कांटो की हैं।

सभी राजनीतिक दल चाहते हैं कि चुनाव समय पर हो..

चुनाव की घोषणा ऐसे समय में होने जा रही है जब देश में हर दिन कोरोना के रिकॉर्ड तोड़ मामले सामने आ रहे हैं। आपको बता दें कि पिछले महीने इलाहाबाद हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से चुनाव स्थगित करने को कहा था। हालांकि बाद में चुनाव आयोग ने कहा कि सभी राजनीतिक दल चाहते हैं कि चुनाव समय पर हो।