विकास के दावों के बावजूद आंकड़े बताते हैं कि सभी चुनावी राज्यों में बेरोज़गारी बढ़ी: वरुण गांधी

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


बीजेपी के यूपी पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी ने एक बार फिर अपनी ही सरकार पर सवाल उठाएं हैं। उन्होंने युवा और बेरोजगार शीर्षक से एक अंग्रेजी अखबार में लिखे अपने लेख को ट्विटर पर साझा करते हुए कहा है कि चुनाव वाले सभी राज्यों में बेरोजगारी बढ़ी है।

राजनीतिक लोक लुभानवाद की बजाय, हमें तत्काल रोज़गार पर ध्यान देने की आवश्यकता…

बीजेपी सांसद ने बीजेपी सरकार के कामकाज पर सवाल खड़े करते हुए अपने ट्वीट में लिखा कि विकास की तमाम बातों के बावजूद आंकड़े बताते हैं कि सभी चुनावी राज्यों में बेरोज़गारी बढ़ी है। राजनीतिक लोक लुभानवाद की बजाय, हमें तत्काल रोज़गार सृजन को प्रोत्साहित करने पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।

हमारे नीति निर्माताओं ने लोगों को लुभाने की कला में महारत हासिल की है पर…

आँकड़ों के माध्यम से देश में बढ़ती बेरोजगारी पर चिंता व्यक्त करते हुए वरुण गांधी ने अपने लेख में लिखा, “हमारे नीति निर्माताओं ने लोगों को लुभाने की कला में भले ही महारत हासिल कर ली हो, लेकिन क्या उन्होंने रोजगार सृजन के लिए काम किया है। बता दें कि भाजपा सांसद वरुण गांधी द्वारा बेरोजगारी और नीति निर्माताओं के लोगों को लुभाने की कला पर उठाए गए सवालों के कई राजनीतिक मायने भी निकाले जा रहे है, क्योंकि इस समय केंद्र और कई राज्यों में भाजपा की सरकार है, जहां विधानसभा चुनाव हो रहे हैं।

चुनाव वाले सभी 5 राज्यों में से 4 राज्यों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में बीजेपी ही सत्ता में है। वरुण गांधी इन्हीं 4 राज्यों में से 1 उत्तर प्रदेश की पीलीभीत लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद हैं। ऐसे में किसी पार्टी के सांसद द्वारा अपनी ही पार्टी पर उठाएं गए इस तरह के सवाल सरकार के काम काज की पोल खोलते हैं।