उन्नाव: योगी सरकार पर विपक्ष हमलावर, जीवित बच्ची को एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाने की माँग तेज़!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


उत्तर प्रदेश के उन्नाव के बबुरहा गांव में एक खेत में दो दलित लड़कियों की लाश और एक लड़की के बेहोशी की हालत में मिलने पर घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। तीनों नाबालिग दलित लड़कियाँ जानवरों का चारा लेने जंगल गईं थी। सभी के गले दुपट्टे से कसे मिले।

घटना की सूचना मिलने पर बच्चियों को इलाके के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने दो लड़कियों को मृत घोषित कर दिया,  जबकि तीसरी ज़िंदा थी। हालत गंभीर होने की वजह से उसे बेहतर इलाज के लिए कानपुर रेफर किया गया। इस लड़की का कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में इलाज चल रहा है। दुपट्टे से गला कसा होने और मुंह से झाग निकलने से परिजन हत्या की आशंका जता रहे हैं।

इस बीच कई राजनीतिक पार्टियों और नेताओं ने जिंदगी और मौत से जूझ रही तीसरी लड़की को बेहतर इलाज के लिए एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाने की मांग की है। सोशल मीडिया पर भी लोग #Save_Unnao_Ki_Beti  हैशटैग के साथ बच्ची को बेहतर इलाज के लिए दिल्ली लाने की मांग कर रहे हैं।

भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर आजाद ने ट्वीट कर कहा है कि उन्नाव केस की एकमात्र गवाह बच्ची का बेहतर इलाज व उसकी सुरक्षा सबसे जरूरी है। बच्ची को तत्काल एयर एंबुलेंस से AIIMS दिल्ली लाया जाए। उत्तरप्रदेश सरकार का अपराधियों को संरक्षण व अपराधियों के मामले में सरकार की कार्यशैली को देश हाथरस कांड में देख चुका है।

दिल्ली सरकार के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने कहा है कि वो कल उन्नाव पहुंच रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्नाव की बेटी को योगी सरकार एयर लिफ्ट करा कर दिल्ली भेजें, दिल्ली सरकार उसके इलाज का हर तरह का खर्चा उठाने के लिए तैयार है।

गुजरात के विधायक ने चर्चित दलित नेता जिग्नेश मेवानी ट्वीट कर रहा है कि उत्तर प्रदेश के सभी लोगों से मेरी अपील है की जब तक उन्नाव की दुर्घटना की पीड़ित बहनों के आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता, तब तक उनकी लाश का स्वीकार न करें, न्याय के लिए दबाव बनाएं। एक बहन की अच्छे से अच्छे अस्पताल में चिकित्सा की जाए।

कांग्रेस महासचिव व यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी ने तीसरी बच्ची को इलाज के लिए दिल्ली शिफ्ट करने की मांग की है। प्रियंका गांधी ने कहा कि उन्नाव की घटना दिल दहला देने वाली है। लड़कियों के परिवार की बात सुनना एवं तीसरी बच्ची को तुरंत अच्छा इलाज मिलना जांच-पड़ताल एवं न्याय की प्रक्रिया के लिए बेहद जरूरी है।

प्रियंका गांधी ने कहा कि खबरों के अनुसार पीड़ित परिवार को नजरबंद कर दिया गया है। यह न्याय के कार्य में बाधा डालने वाला काम है। आखिर परिवार को नजरबंद करके सरकार को क्या हासिल होगा। यूपी सरकार से निवेदन है कि परिवार की पूरी बात सुने एवं त्वरित प्रभाव से तीसरी बच्ची को इलाज के लिए दिल्ली शिफ्ट किया जाए।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि केवल दलित समाज को ही नहीं यूपी सरकार महिला सम्मान व मानवाधिकारों को भी कुचलती जा रही है। लेकिन वे याद रखें कि मैं और पूरी कांग्रेस पार्टी पीड़ितों की आवाज़ बनकर खड़े हैं और उन्हें न्याय दिलाकर ही रहेंगे।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि उन्नाव की 3 दलित बहनों के लिए न्याय की माँग करने व सांत्वना देने के लिए सपा का प्रतिनिधिमंडल उनके परिजनों से मिला। पहले ‘हाथरस की एक बेटी’, फिर ‘बदायूँ की एक माँ’ और अब ‘उन्नाव की बहनें’ भाजपा राज में कोई भी नारी सुरक्षित नहीं। बहुत हुआ नारी पर अत्याचार, अबकी बार भाजपा बाहर।

बीएसपी मायावती ने घटना की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। मायावती ने ट्वीट कर कहा कि यूपी के उन्नाव ज़िले में तीन दलित बहनों में से दो की खेत में कल हुई रहस्मय मौत व एक की हालत नाजुक होने की घटना अति-गंभीर व अति-दुःखद है। उन्होंने पीड़ित परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हुए सरकार से घटना की उच्च-स्तरीय जाँच कराने व दोषियों को सख्त सजा दिलाने की माँग की है।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।