दुनिया के 10 सबसे प्रदूषित शहरों में दिल्ली अव्वल, लिस्ट में भारत के 3 शहर!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


दिल्ली में लगातार वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है, जिससे यहां स्वास्थ्य आपातकाल की चिंता पैदा हो गई है। शनिवार को दिल्ली की हवा और भी जहरीली हो गई है। यहां सांस लेना तक खतरनाक हो चुका है। आईक्यू एयर के आंकड़ों के अनुसार शुक्रवार को दिल्ली दुनिया के दस सबसे प्रदूषित शहरों में पहले स्थान पर रही है।

बच्चों, बुजुर्गों और गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर न निकलने की सलाह..

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने वायु प्रदूषण का स्तर गंभीर श्रेणी में पहुंचने के बाद बच्चों, बुजुर्गों और गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर न निकलने की सलाह दी है। वायु प्रदूषण पिछले कुछ वर्षों में एक बड़े खतरे के रूप में उभरा है। इसका मुख्य कारण पराली, पटाखों, फैक्ट्रियां और तेजी से बढ़ रहे वाहनों की संख्या बताया जा रहा है। हालांकि यह स्थिति न केवल दिल्ली में पटाखों और पंजाब-हरियाणा में पराली जलाने से है, बल्कि चीन और पाकिस्तान के वायु गुणवत्ता सूचकांक में भी गिरावट आई है।

प्रदूषण इस समय सिर्फ भारत की ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया की चिंताओं में शामिल है। दुनिया के वायु गुणवत्ता सूचकांक पर नज़र रखने वाली संस्था आईक्यू एयर के आंकड़ों पर नज़र डालें तो शुक्रवार को दिल्ली दुनिया के दस सबसे प्रदूषित शहरों की लिस्ट में 556 वायु गुणवत्ता के साथ टॉप पर रहा है। सबसे खराब एक्यूआई सूचकांक वाले शहरों में पाकिस्तान में लाहौर और चीन में चेंगदू भी शामिल हैं।

IQ Air के अनुसार सबसे खराब वायु गुणवत्ता वाले दुनिया के टॉप 10 प्रदूषित शहर..

  1. भारत की राजधानी दिल्ली एक्यूआई 556 के साथ टॉप पर।
  2.  पाकिस्तान का लाहौर एक्यूआई 354 के साथ दूसरे नंबर पर।
  3. बुल्गारिया के सोफिया में एक्यूआई 178 है। लाइट में यह खराब वायु गुणवत्ता वाला तीसरा शहर हैं।
  4. भारत के कोलकाता में एक्यूआई 177 है।
  5.  क्रोएशिया के जाग्रेब में एक्यूआई 173 है।
  6. भारत के मुंबई शहर में एक्यूआई 169 है।
  7. सर्बिया के बेलग्रेड में एक्यूआई 165 है।
  8. चीन के चेंगदू में एक्यूआई 165 है।
  9. उत्तरी मैसेडोनिया का स्कोपियाइस लिस्ट में 164 एक्यूआई के साथ नवे स्थान पर है।
  10. पोलैंड का क्राको में एक्यूआई 160 है।

मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।