COVID-19: देश भर में आठ लोगों की मौत, शहर, परिवहन और अदालतें भी बंद

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


कोरोना वायरस से होने वाली बीमारी कोविड-19 इस समय दुनिया के 3.32 लाख से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर चुकी है. 14,587 लोगों की जान जा चुकी है. भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 428 तक पहुंच चुकी है और अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है.

कोरोना वायरस के कारण देशव्यापी बंद का आज दूसरा दिन है. उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, दिल्ली समेत 10 से अधिक राज्यों के कई शहरों को लॉकडाउन किया गया है. जहां एक ओर रेल और परिवहन सेवाएं ठप हैं वहीं अदालतें भी बंद हैं. दिल्ली उच्च न्यायालय में वकीलों के सभी चेंबर आज शाम से 31 मार्च तक के लिए बंद हो जाएंगे.

इसके अलावा सभी जिला न्यायालय भी 4 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिए गये हैं.

सुप्रीम कोर्ट वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ज़रूरी मामलों की सुनवाई कर रहा है.

कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित राज्य केरल है. केरल हाइकोर्ट को भी आगामी 8 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया गया है. इस दौरान केवल ज़रूरी मामलों की सुनवाई के लिए मंगलवार और शुक्रवार को अदालत की बैठक होगी जिसमें ऐसे मामले जो व्यक्तिगत स्वतंत्रता को प्रभावित करते हैं, बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिकाएं और जमानत याचिकाओं पर सुनवाई होगी.

वहीं दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) सभी विभागों के ओपीडी अगले आदेश तक बंद रहेंगे.

जहां यह बंद इस महामारी के फैलाव पर नियंत्रण करने के लिए अनिवार्य माना जा रहा है वहीं जनमानस के दैनिक दिनचर्या पर भी इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है. दैनिक ज़रूरत की वस्तुओं की किल्लत न होने की सरकारी वादे के बावजूद इसका गहरा प्रतिकूल असर पड़ा है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य सरकारों से बंद का सख्ती से पालन कराने और आदेश तोड़ने पर कार्रवाई करने को कहा है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लॉकडाउन के दौरान लोगों से सहयोग की अपील की है. उन्होंने कहा कि हम कोरोना को मिलकर हराएंगे.

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।