चिंताजनक: दुर्गा पूजा के दौरान कोरोना नियमों के उल्लंघन से बंगाल में बढ़े नए मामले!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


तयोहरों के सीज़न में कोरोना के बढ़ने का खतरा अब सिर्फ खतरा ही नही हकीकत होता नज़र आ रहा हैं। कोलकाता में कोरोना के मामलों में इज़ाफा देखने को मिल रहा है। दुर्गा पूजा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना के नियमों का पालन न करने के कारण कोरोना संक्रमण फैल रहा है, जिससे मामलों में वृद्धि हो रही है। प्रशासन के अनुसार, कोरोना मरीज़ों को आइसोलेट करने के लिए सोमवार से शहर में एक बार फिर से क्वारंटाइन सेंटर शुरू किए जाएंगे।

एक दिन में दर्ज हुए कोरोना के 242 नए मामले..

दिवाली की तैयारियां शुरू होने से पहले ही कोलकाता में कोरोना के 242 नए मामले दर्ज किए गए। यह आंकड़े शुक्रवार के हैं। पिछले शुक्रवार को कोरोना के 127 मामले सामने आए थे। यानी पिछले शुक्रवार के मुकाबले इस शुक्रवार को 115 मामले ज़्यादा दर्ज हुए। कोरोना के जो नए मामले दर्ज हुए उनमें से ज़्यादातर ने कोरोना की दोनों डोज़ ले ली थीं और कुछ मरीज़ों ने तो पहली डोज़ पहले ले ली थी।

पूजा उत्सव के अंतिम सप्ताह में जमकर नियमों का उल्लंघन..

ऐसा नहीं है कि इस बात का अंदाज़ा नही था। दुर्गा पूजा शुरू होने से पहले ही सरकार और विशेषज्ञों ने जोर देकर कहा था कि अगर लोग सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड नियमों का पालन नहीं करेंगे तो कोरोना फिर से वापस आ जाएगा। अब ऐसा ही होता नज़र आ रहा है लोगों की लापरवाही दोबारा महामारी को न्योता दे रही है। इस संबंध में प्रशासनिक अधिकारियों का भी मानना ​​है कि दुर्गा पूजा उत्सव के अंतिम सप्ताह में लोगों ने जमकर नियमों का उल्लंघन किया है, जिससे कोरोना के नए मामले सामने आ रहे है।

स्वास्थ्य विभाग के सभी कर्मचारियों की छुट्टी रद्द..

कोलकाता मुनिसिपल कॉर्पोरेशन के हेल्थ इंचार्च अतिन घोष का कहना है कि ” बड़ी संख्या में लोग दुर्गा पूजा का आनंद लेने के लिए सड़कों पर देखे जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग के सभी कर्मचारियों की छुट्टी रद्द कर दी गई है। बहुत से लोगों ने मास्क भी नहीं पहना हुआ था। हम स्थिति पर नज़र रख रहे हैं क्योंकि उनके संक्रमण का इन्क्यूबेशन पीरियड अभी खत्म नहीं हुआ है।”

 नए मामलों में से ज़्यादातर बिना लक्षण के..

बढ़ते मामलों पर प्रशासनिक अधिकारियों ने चिंता जताते हुए कहा कि परेशान करने वाली बात यह है कि कोरोना के नए मामलों में से ज़्यादातर (200) बिना लक्षण वाले हैं। ऐसे मामले में लोग आसानी से बाहर घूम सकते हैं और वायरस फैला सकते हैं। कोलकाता ही नहीं पूरे बंगाल में संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं ।

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।