CAA: हिंसक झड़प में बंगाल में 2 की मौत, बिहार में 15 घायल, पुणे में 250 गिरफ्तार

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


आज भारत बंद के दौरान नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के खिलाफ और पक्ष में प्रदर्शन में पश्चिम बंगाल और बिहार में दो पक्षों में हिंसा और झड़पें हुई . पश्चिम बंगाल में हिंसा में दो लोगों की मौत हो गई है. मुर्शिदाबाद से कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि साहेबनगर के स्थानीय लोग नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ शांतिपूर्ण तरीके से विरोध कर रहे थे. अचानक टीएमसी के गुंडों ने उन पर बम से हमला कर दिया.

नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान पश्चिम बंगाल में हिंसा हुई है. मुर्शिदाबाद के जलांगी इलाके में बुधवार को तृणमूल कांग्रेस नेताओं और स्थानीय लोगों में झड़प के बाद हिंसा भड़की है. मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंच गई है.

पुलिस मामले की जांच कर रही है. इस बीच, घटना की जानकारी मिलते ही उच्चाअधिकारी भी मौके पर पहुंचे हैं. घटना स्थल पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. इलाके में तनाव है.

वहीं बिहार में भी प्रदर्शन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प हुई, जिसमें 15 से अधिक लोगों के घायल होने की खबर है.

दरअसल, राज्य के सीतामढ़ी जिले में एक गुट सीएए और एनआरसी को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे, वहीं दूसरा गुट इसके समर्थन में रैली निकाल रहा था. तभी दोनों गुट किसी बात को लेकर आपस में भिड़ गए. दोनों गुटों के बीच लात-घूंसे और लाठी-डंड़े चलने लगे जिससे इस घटना में 15 लोग घायल हो गए हैं. इसके अलावा राज्य के अन्य जिलों से भी छिटपुट हिंसा और झड़प की ख़बरें हैं.

वहीं महारष्ट्र में प्रदर्शनकारियों पर मिर्च पाउडर फेंकने की भी खबर है.

पुणे में पुलिस ने 250 से अधिक प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया है. ये सभी प्रदर्शनकारी भारत के दौरान नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे थे.


 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।