यूपी पुलिस की छवि खराब कर रहे हैं BHU के निजी सुरक्षाकर्मी : एसएसपी, बनारस

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
कैंपस Published On :


बनारस हिंदू विश्‍वविद्यालय के कुलसचिव को एक पत्र लिखकर वाराणसी के वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक ने एक बड़ा आरोप लगाया है। बीएचयू के छात्रों पर हुए लाठीचार्ज के अगले दिन 24 सितंबर को लिखे एक पत्र में बनारस के एसएसपी ने लिखा है कि बीएचयू के प्राक्‍टोरियल सुरक्षाकर्मी नागरिक पुलिस की वर्दी पहनते हैं और ‘जनमानस के साथ गलत व्‍यवहार करते हैं’।

बनारस जोन के अपर पुलिस महानिदेशक, आयुक्‍त, पुलिस महानिरीक्षक, जिलाधिकारी, बीएचयू के चीफ प्रॉक्‍टर, मुख्‍य सुरक्षा अधिकारी और नगर पुलिस अधीक्षक को इस पत्र की एक प्रति भेजी गई है जिसमें बीएचयू प्रशासन को निर्देश दिया गया है कि वह अगले 48 घंटे के भीतर प्रॉक्‍टोरियल सुरक्षाकर्मियों की वदी्र को बदल दे अथवा वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।

पत्र में साफ लिखा गया है कि प्रॉक्‍टोरियल सुरक्षाकर्मियों के नागरिक पुलिस जैसी वर्दी पहन कर आचरण करने से उत्‍तर प्रदेश पुलिस विभाग की छवि धूमिल होती है। इसके लिए पत्र में निजी सुरचा एजेंसी नियमन कानून का हवाला दिया गया है और कहा गया है कि बार-बार अनुरोध करने के बावजूद निजी सुरक्षाकर्मी पुलिस जैसे कपड़े पहनते हैं, जो गलत है।

गौरतलब है कि 23 सितंबर की रात छात्राओं पर सबसे पहला हमला प्रॉक्‍टोरियल बोर्ड के सुरक्षाकर्मियों ने ही किया था जो कुलपति की निजी सुरक्षा में थे। यह अपने आप में असंवैधानिक था। अब यूपी पुलिस की ओर से आधिकारिक पत्र के बाद प्रॉक्‍टोरियल बोर्ड के लिए मुश्किलें खड़ी हो गई हैं।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।