भीमा कोरेगांवः आरोपितों की ज़मानत याचिका खारिज, नवलखा पर सुनवाई कल

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


भीमा कोरेगांव हिंसा के मुकदमे में चल रही जांच के सिलसिले में गिरफ्तार नौ आरोपितों की ज़मानत याचिका आज पुणे की सत्र अदालत से खारिज हो गयी है। इनमें वकील सुरेंद्र गाडलिंग, कवि वरवरा राव, वकील सुधा भारद्वाज, एक्टिविस्ट वर्नॉन गोंजाल्विस, अरुण फरेरा, शाेमा सेन, महेश राउत और रोना विल्सन शामिल हैं। 

इन्हीं के साथ गिरफ्तार किए गए पत्रकार गौतम नवलखा अभी ज़मानत पर चल रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट ने 15 अक्टूबर को उन्हें चार सप्ताह तक गिरफ्तारी से राहत दी थी और अवधि बढ़वाने के लिए उपयुक्त अदालत के पास जाने को कहा था। यह अवधि 14 नवंबर को समाप्त हो रही है।

नवलखा ने इसके बाद बांबे हाइकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका लगायी थी। हाइकोर्ट ने उन्हें पुणे की अदालत में जाने को कहा। सोमवार को नवलखा ने पुणे की सत्र अदालत में अग्रिम ज़मानत याचिकालगायी। इस याचिका पर कल सुनवाई होनी है।