दिल्ली में नाबालिग दलित लड़की के ‘रेप और हत्या’ पर प्रियंका ने साधा अमित शाह पर निशाना


पुजारी ने लड़की की माँ से कहा कि अगर पुलिस बुलायी गयी तो पोस्टमार्टम होगा और लड़की के अंग चुरा लिये जायेंगे। इस तरह का माहौल बनाकर उसने लड़की का अंतिम संस्कार कर दिया। बाद में तमाम अन्य लोग पहुँचे और मामले ने तूल पकड़ा। सवाल उठ रहा है कि पुजारी ने पुलिस बुलाने से क्यों रोका। आरोप बलात्कार के लग रहे हैं।


मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


दिल्ली के नांगल इलाक़े में एक नौ साल की बच्ची के कथित बलात्कार और हत्या के मामले में पुजारी समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुजारी ने बिना परिजनों की मर्ज़ी के बच्ची का अंतिम संस्कार कर दिया था। उधर, इस मामले में न्याय की माँग के लिए तमाम सामाजिक कार्यकर्ता और राजनीतिक दल सक्रिय हो गये हैं। भीम आर्मी चीफ़ चंद्रशेखर और कांग्रेस नेता डॉ.उदित राज ने इस मुद्दे पर प्रदर्शन किया। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी ने इस मसले पर दिल्ली की क़ानून व्यवस्था को लेकर केंद्र सरकार, खासतौर पर गृहमंत्री अमित शाह पर इशारों पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने इसे हाथरस जैसा कांड बताया।

 

पुलिस के मुताबिक रविवार रात एक नाबालिग लड़की के बलात्कार के बाद मौत और दाह संस्कार की ख़बर पाकर दो सौ के करीब ग्रामीण नांगल श्मशान घाट पर इकट्ठा हो गये थे। उनका कहना था कि श्मशान के पुजारी पंडित राधेश्याम ने बिना परिजनों की अनुमति के उसका अंतिम संस्कार कर दिया।

दरअसल, रविवार शाम साढ़े पांच बजे नांगल श्मशान के पास रहने वाली लड़की अपनी माँ को बातकर घाटे के वाटर कूलर से ठंडा पानी लेने गयी थी। वहाँ के पुजारी पंडित राधेश्याम ने करीब छह बजे लड़की की माँ और कुछ अन्य लोगों को बुलाकर लड़की का शव दिखाया और बताया कि वाटर कूलर से पानी लेने के दौरान उसे करंट लग गया।

पुजारी ने लड़की की माँ से कहा कि अगर पुलिस बुलायी गयी तो पोस्टमार्टम होगा और लड़की के अंग चुरा लिये जायेंगे। इस तरह का माहौल बनाकर उसने लड़की का अंतिम संस्कार कर दिया। बाद में तमाम अन्य लोग पहुँचे और मामले ने तूल पकड़ा। सवाल उठ रहा है कि पुजारी ने पुलिस बुलाने से क्यों रोका। आरोप बलात्कार के लग रहे हैं।

पुलिस ने इस मामले में पुजारी समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है और पाक्सो तथा एस.सी-एस.टी एक्ट के तहत कार्रवाई की है।

सोशल मीडिया पर इस कांड की तुलना हाथरस कांड से की जा रही है जहाँ एक 19 वर्षीय युवती के साथ बलात्कार और हत्या का प्रयास UGआ था। बाद में इलाज के दौरान युवती की मौत हो गयी थी। बाद में प्रशासन ने घर वालों को बिना बताये उसका अंतिम संस्कार कर दिया था जिस पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रशासन को तगड़ी लताड़ लगाई थी।

यहाँ भी परिजन आरोप लगा रहे हैं कि लड़की के साथ बलात्कार किया गया। हालाँकि लाश न होने की वजह से अब जाँच आसान नहीं रह गयी है।  हालाँकि पुलिस का कहना है कि वह तहकीकात में जुटी है और अपराधी छोड़े नहीं जायेंगे।

इस बीच राजनीतिक दल इस मुद्दे पर न्याय दिलाने के नारे के साथ सक्रिय हो गये हैं। भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर ने इलाके का दौरा किया। कांग्रेस के राज्यसभा सांसद इस मामले में चर्चा के लिए राज्यसभा चेयरमैन को नोटिस भी दिया था। बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ.उदित राज ने भी इस मुद्दे पर सक्रियता दिखायी है। वे धरने पर भी बैठे और लोगों को ट्विटर पर नांगल पहुँचने का आह्वान किया।


Related