PMC बैंक: आठवें पीड़ित की मौत, परिवार वालों के पास नहीं थे इलाज के पैसे

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


पीएमसी बैंक के आठवें ग्राहक की मौत हो गयी। मृतक के परिजनों अनुसार मौत का कारण इलाज का खर्च नहीं उठा पाना है। 74 वर्षीय एंड्रयू लोबो का गुरुवार, 31 अक्टूबर को देर शाम ठाणे के पास काशेली में उनके घर पर निधन हो गया। लोबो के बैंक खाते में 26 लाख से अधिक रुपये जमा थे। लोबो इस जमा राशि के ब्याज से अपना गुजारा करते थे।

उनके पोते क्रिस ने बताया, ‘दो महीने पहले उनके फेफड़े में संक्रमण हो गया था जिसके लिए उन्हें नियमित रूप से इलाज और दवाओं की जरूरत थी। लेकिन उनका पैसा बैंक में अटका हुआ था जिससे उनकी यह जरूरत पूरी नहीं हो पायी।’

एंड्रयू लोबो पीएमसी बैंक पर आरबीआई द्वारा नकदी निकासी की सीमा लगाए जाने के बाद से मारे जाने वाले आठवें जमाकर्ता हैं। आरबीआई के इस फैसले के बाद 23 सितंबर को एक जमाकर्ता ने आत्महत्या कर ली थी।

गौरतलब है कि बैंक के कुछ अधिकारियों पर फर्जी तरीके से कर्ज बांटने के लिए निजी कंपनी एचडीआईएल के साथ साठगांठ करने का आरोप है। अब हजारों खाताधारक अपने पैसे निकाल पाने में असमर्थ हैं।

पीएमसी बैंक की 137 शाखाएं हैं और यह देश के टॉप-10 को-ऑपरेटिव बैंकों में से एक है। आरोप के मुताबिक पीएमसी बैंक के मैनेजमेंट ने अपने नॉन परफॉर्मिंग एसेट और लोन वितरण के बारे में आरबीआई को गलत जानकारी दी है। जिसके बाद आरबीआई ने बैंक पर कई तरह की पाबंदी लगा दी। अनियमितता के आरोप के बाद रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने पंजाब ऐंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड (पीएमसी) के नियमित कारोबारी ट्रांजेक्शन सहित अधिकांश कारोबार पर पाबंदियां लगा दी है। यह पाबंदी छह महीने तक के लिए लगाई गई है।