रोजगार मांग रहे विस्‍थापित आदिवासियों पर वेदांता का खूनी हमला, दो मरे, दर्जनों घायल

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :

esidents of Lanjigarh protesting outside Vedanta's refinery with the body of the protestor who died during a clash on Monday. Credit: Scroll.n


ओडिशा के कालाहांडी स्थित लांजीगढ़ के वेदांता रिफाइनरी में सोमवार को हुई भारी हिंसा में दो लोगों के मारे जाने की खबर है। इनमें एक कंपनी का सुरक्षा गार्ड है और दूसरा एक आदिवासी है।

कुछ दिन पहले ही नियम‍गिरि सुरक्षा सुमिति के नेता लिंगराज आज़ाद को ओडिशा पुलिस ने पुराने मुकदमों में गिरफ्तार किया था। बाद में उन्‍हें ज़मानत दे दी गई। इसके बाद सोमवार को कुछ आदिवासी कंपनी में रोजगार मांगने गए जहां उनके ऊपर लाठी और गोलियों से हमला किया गया। शुरुआत में तीन लेागों के मारे जाने की खबर आ रही थी।

बाद में वेदांता के प्रशासन ने दो लोगों के मारे जाने की पुष्टि की।

मारे गए आदिवासी का नाम दीना पात्रा है जो कंपनी में ठेका कर्मचारी था। मारे गए सिपाही का नाम सुजीत है। वह ओडिशा औद्योगिक सुरक्षा बल में हवलदार था और कंपनी के गेट पर तैनात था।

इस लाठीचार्ज में कंपनी के 30 आदिवासी मजदूरों को गंभीर चोट आई है।

खबर लिखे ताने तक लांजीगढ़ के निवासी बत्रा की लाश को कंपनी के सामने रखकर धरने पर बैठे हुए थे। बत्रा नियमगिरि की पहाडि़यों में स्थित खम्‍बेसी गांव का रहने वाला है।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।