Home न्यू मीडिया बीजेपी नेता ने तीस्ता सीतलवाड को बताया डायन, लोगों ने की कार्रवाई...

बीजेपी नेता ने तीस्ता सीतलवाड को बताया डायन, लोगों ने की कार्रवाई की माँग

SHARE

गुजरात दंगा पीड़ितों के लिए लंबी लड़ाई लड़ते हुए प्रधानमंत्री मोदी पर लगातार उँगली उठाने वाली समाजसेवी तीस्ता सीतलवाड अगर बीजेपी नेताओं की आँख में किरकिरी की तरह हैं, तो इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है। उन पर विदेशी पैसा लेने या फिर देशद्रोही होने की तमाम तोहमते बीजेपी के छोटे-बड़े नेता लगाते ही रहे हैं। लेकिन यूपी के एक नेता ने उन्हे ंडायन कहकर तमाम हदें पार कर दी हैं जिस पर काफ़ी विवाद हो रहा है।

बीजेपी के इस नेता का नाम है आई.पी.सिंह। ट्विटर पर दर्ज अपने परिचय में इन्होंने खुद को बीजेपी का वरिष्ठ नेता और यूपी का पूर्व राज्यमंत्री बताया है। आई.पी.सिंह ने 12 मार्च को ट्विटर पर तीस्ता की एक तस्वीर पोस्ट करके लिखा-तीस्ता शक्ल से डायन।

 

वैसे, ऐसा लिखने के लिए उन्हें किस चीज़ ने प्रेरित किया, यह स्पष्ट नहीं है। स्पष्ट बस इतना होता है कि वे डायन का अस्तित्व न सिर्फ़ स्वीकार करते हैं और अपने से अलग विचार रखने वाली एक महिला को डायन कहकर भड़ास निकाल रहे हैं। तीस्ता की शक्ल डायन जैसी है, यह भी उनकी खुन्नस का ही नतीजा लगता है, वरना उन्होंने किसी डायन के साथ न फोटो खिंचवाई होगी और न ही सेल्फ़ी ली होगी।  देश के तमाम इलाकों में किसी स्त्री की हत्या के पहले ऐसी ही तोहमत लगाई जाती है, और तीस्ता को ट्रोल करने वालों की कमी नहीं है। वे लगातार बीजेपी आईटी सेल के निशाने पर रही हैं।

वैसे, आई.पी.सिंह के ट्विटर पर ज़्यादा फालोवर नहीं हैं, इसलिए वहाँ इस पर बहुत प्रतिक्रिया नहीं हुई, लेकिन जब यह जानकारी फेसबुक के ज़रिये सामने आई तो लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया जताई। पीयूसीएल की लखनऊ इकाई के अध्यक्ष सिद्धार्थ कलहंस ने आई.पी.सिंह के बयान को महिला विरोधी बताते हुए कड़ी निंदा की है और पार्टी से कड़ी कार्रवाई करने की माँग की है।

आगे बढ़ने से पढ़िए कुछ फ़ेसबुक प्रतिक्रियाएँ

 ·
Ravindra Maurya दूषित कुविचार वाले संघी

Manage

DrRakesh Pathak इतना जहर कहाँ से लाते हैं ये संघी?

Manage

 
Ratnesh Kumar साथ ही अवैज्ञानिकता भी फैला रहा है

 

Vk Singh YE FASCISTS PISHACH HAIN.

Zafar Irshad आईपी सिंह एक frustrated नेता है. ठाकुर होने के बाद भी हाशिये पर है इससे ज़्यादा बदकिस्मती और क्या होगी

अज़ीज़ वक़ार खान सबरंग की करता धरता , वाकई सलाम के काबिल है ।

 

A K Arun हद है !

 

Utkarsh Sinha फिलहाल भी अपनी इन्ही खासियतों के कारण हाशिये पर है
जब यूपी में कल्याण सिंह मुख्यमंत्री थे तो आई.पी.सिंह उत्तर प्रदेश सहकारी श्रम निर्माण संघ के चेयरमैन बतौर राज्यमंत्री की हैसियत रखते थे। लेकिन फ़िलाहाल उनके पास कोई ज़िम्मेदारी नहीं है।  कहा जा रहा है कि हाशिये पर चल रहे आई.पी.सिंह ऐसे ही विवादित बयानों के ज़रिए चर्चा में आना चाहते हैं। बीजेपी में आगे बढ़ने का ये नुस्खा उन्होंने बीजेपी के तमाम बड़े नेताओं को देखकर सीखा है। वे योगी जी के ख़ासे मुरीद हैं, और सोशल मीडिया पर उनकी काफ़ी प्रशंसा किया करते हैं। अपने ‘जुगाड़’ से वे पार्टी की ओर से टी.वी.डिबेट में अक्सर दिखते हैं, हालाँकि न वे प्रवक्ता हैं और न मीडिया पैनलिस्टों में ही उनका नाम है। 14 मार्च को मतगणना के समय भी वे टीवी पर नज़र आ रहे थे।
अब देखना ये है कि तीस्ता सीतलवाड को डायन बताने वाले अपने नेता के ख़िलाफ़ बीजेपी क्या कार्रवाई करती है। इसी से साबित होगा कि महिलाओ ंके सम्मान को लेकर उसके तमाम दावों में कितना दम है।