BJP की महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का मोर्चा: दिल्ली में नही मिली अनुमति तो महंगाई हटाओ रैली जयपुर में आयोजित!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
देश Published On :


भाजपा सरकार के खिलाफ बढ़ती महंगाई को लेकर कांग्रेस 12 दिसंबर को महंगाई हटाओ रैली करेगी। पहले यह रैली दिल्ली से होने वाली थी, लेकिन सरकार ने अनुमति देकर खारिज कर दी। इसलिए अब यह रैली जयपुर राजस्थान में आयोजित की गई है। यह जानकारी कांग्रेस पार्टी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी है।

भाजपा सरकार की तानाशाही सभी हदें पार कर गई..

कांग्रेस की ओर से बढ़ती महंगाई से परेशान जनता की पीड़ा को देखते हुए यह रैली आयोजित की गई है। पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने अपने बयान में भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि “केंद्र की भाजपा सरकार की तानाशाही सभी हदें पार कर गई हैं। यह देश की पहली ऐसी सरकार है जो ना तो सांसदों की बात सुनना चाहती है ना संसद की। जब-जब कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में सूचना विपक्ष कमरतोड़ महंगाई, बेतहाशा बेरोजगारी, डूबती अर्थव्यवस्था, किसान मजदूरों की अथाह पीड़ा वा दलितों आदिवासियों पिछड़ों, अल्पसंख्यकों के अधिकारों के दमन के महत्वपूर्ण मुद्दे उठाता है उन पर बहस करना चाहता है तो मोदी सरकार एक सोचे समझे षड्यंत्र के तहत संसद को खुद ही नहीं चलने देती।

विज्ञप्ति में वेणुगोपाल ने गिने-चुने पत्रकारों को संसद में जाने की अनुमति देने को लेकर कहा, देश में 75 साल के इतिहास में पहली बार अब पत्रकारों को भी संसद की कार्यवाही पत्रकार दीर्घा से देखने के लिए सड़कों पर आंदोलन करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा, आज कमर तोड़ महंगाई देश के हर व्यक्ति के लिए एक गंभीर संकट है। मोदी सरकार महंगाई रोकने की बजाय हर रोज दाम बढ़ा रही है और टैक्स लगा कर वसूली कर रही है।”

महंगाई के लिए सीधे-सीधे मोदी सरकार जिम्मेदार है..

वेणुगोपाल ने कहा, “अहंकारी प्रधानमंत्री नहीं चाहते कि महंगे पेट्रोल डीजल, महंगा गैस सिलेंडर, महंगा खाने का तेल, महंगी दाल और सब्जियां तथा आसमान छूती सभी चीजों की कीमतों पर जन आंदोलन हो और या सार्वजनिक हो की कमरतोड़ महंगाई के लिए सीधे-सीधे मोदी सरकार जिम्मेदार है। पर हम ना झुकने वाले हैं ना डरने वाले। इसलिए अब जनता के सुख-दुख को उठाने के लिए प्रतिबंध कांग्रेस ने निर्णय लिया है कि दिल्ली में होने वाली महंगाई हटाओ रैली अब 12 दिसंबर 2021 को ही जयपुर, राजस्थान में आयोजित की जाएगी।”

बीजेपी का विपक्ष की मजबूत आवाज को रोकने का विफल प्रयास..

दरअसल, कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी ने फैसला किया था कि 12 दिसंबर 2021 को मोदी सरकार के खिलाफ दिल्ली में एक व्यापक महंगाई हटाओ रैली की जायेगी। जिसे सरकार ने अनुमति देने के बाद खारिज कर दी। इसे लेकर कांग्रेस ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आवाज उठाते हुए कहा, “कांग्रेस पार्टी ने इस भव्य रैली के आयोजन की अनुमति मांगी थी। सरकार ने काफी मशक्कत के बाद द्वारका में रैली की अनुमति दी, लेकिन बाद ने मोदी सरकार ने सुनियोजित साजिश के तहत दिल्ली के उपराज्यपाल पर दबाव बनाकर दिल्ली के द्वारका में होने वाली महंगाई हटाओ रैली की अनुमति खारिज करवा दी।

एक बार फिर महंगाई से पिसती जनता की पीड़ा पर विपक्ष की मजबूत आवाज को रोकने का विफल प्रयास किया। हम जनता की आवाज उठा रहे हैं उनकी लड़ाई लड़ते रहेंगे जब तक इस अहंकारी निर्णय और पूंजीपतिपरस्त सरकार की अकल ठिकाने ना लगा दें और इसे मजबूर ना कर दे जनता को महंगाई से राहत दे।”

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।