पहली बार फील्ड एंड ट्रैक में पदक, 7 पदकों के साथ देश के लिए सबसे सफल ओलंपिक

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
MV स्पोर्ट्स Published On :


भारत के लिए आज दोहरी खुशी का मौका है। एक तरफ टोक्यो ओलंपिक में हरियाणा के स्टार पहलवान बजरंग पूनिया ने कांस्य पदक जीता। तो वही दुसरी ओर हरियाणा, पानीपत के भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने गोल्ड पर निशाना साध इतिहास रच दिया। दोनो खिलाड़ियों की शानदार जीत से भारत में खुशी का माहोल है। ओलंपिक खेल के शौकीन भारत वासियों समेत राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री से लेकर खेल मंत्री तक ने बजरंग पूनिया को शुभकामनाएं दी हैं। वहीं नीरज चोपड़ा को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर समेत देश के कई बड़े नेताओं और फिल्म स्टार अक्षय कुमार, सिंगलर लता मंगेशकर,फिल्म प्रोड्यूसर गोल्डी बहल, भारतीय लेखक और स्तंभकार चेतन भगत समेत कई बड़ी हस्तियों ने बाधाई दी।

भारत में 121 साल के इतिहास में पहली बार स्वर्ण पदक…

बजरंग ने 65 किग्रा फ्रीस्टाइल स्पर्धा के कांस्य पदक मुकाबले में कजाकस्तान के पहलवान नियाजबेकोव को एकतरफा मुकाबले में मात दे दी। नियाजबेकोव को बजरंग पूनिया ने 8-0 से पटखनी दी। उनकी जीत का जश्न थमा भी नहीं था की ओलंपिक में भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने वो करिश्मा कर दिखाया, जो आज तक किसी ने नहीं किया। उन्होंने ओलंपिक के इतिहास में अपना नाम जद करा दिया। अब तक फील्ड एंड ट्रैक में कोई भी भारतीय पदक नहीं जीता था।

इस जीत के साथ ही नीरज चोपड़ा ने 121 साल के इतिहास में पहली बार ट्रैक एंड फील्ड में भारत को गोल्ड मेडल जीता है। नीरज चोपड़ा , फील्ड एंड ट्रैक में गोल्ड जीतने वाले पहले और व्यक्तिगत स्पर्धा में गोल्ड हासिल करने वाले दूसरे भारतीय हैं। उनसे पहले निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने गोल्ड जीता था। अभिनव बिंद्रा ने 2008 भारतीय खेल इतिहास में एक अलग मुक़ाम हासिल किया था। वह ओलंपिक में भारत के लिए पहले व्यक्तिगत स्वर्ण पदक विजेता बने थे।

नीरज का नेशनल रिकॉर्ड 88.07 मीटर…

नीरज ने क्वालिफिकेशन राउंड जर्मनी के दिग्गज भाला फेंक, गोल्ड मेडल के दावेदार और 2017 के विश्व चैम्पियन जोहानस वेटर को हरा दिया है। वेटर ने विश्व एथलेटिक्स द्वारा आयोजित मीडिया सम्मेलन में कहा था कि टोक्यो में मैं 90 मीटर अधिक दूरी हासिल करने की कोशिश करूंगा, ऐसे में नीरज के लिए मुझे हराना मुश्किल होगा। बता दें कि नेरत ने पहले प्रयास में ही 86.65 मीटर दूर भाला फेंका और पहली बार ओलंपिक में गए नीरज चोपड़ा ने कुछ ही सेकेंड में फाइनल राउंड में अपनी जगह बनाई थी। उन्होंने 87. 58 मीटर भाला फेंक कर सोना जीता। वहीं नीरज का नेशनल रिकॉर्ड 88.07 मीटर रहा।

इस बार के ओलंपिक अबतक का सबसे ज्यादा पदक..

इस बार टोक्यो ओलंपिक में भारतीय टीम ने कमल का प्रदर्शन दिखाया। सभी को उम्मीद थी कि इस बार भारतीय टीम ओलंपिक इतिहास में सबसे अच्छा प्रदर्शन करेगी। टीम सभी उम्मीदों पर खरी भी उतरी। यह साल इतिहास के पन्नों में यादगार रहेगा। भारत ने टोक्यो ओलंपिक में कुल 7 पदक अपने नाम किए। इससे पहले 2012 में हुए लंदन ओलंपिक में भारत ने 6 पदक जीते थे। भारत ने एक स्वर्ण, दो रजत और 4 कांस्य अपने नाम किया है।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।