अंबानी के ऐंकर ने लूटा बाज़ार, सेबी ने धर लिया!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
मीडिया Published On :


बहुत से लोग बिज़नेस चैनलों को देखकर शेयर बाज़ार में पैसे लगाते हैं। शेयर बाज़ार पर शो करने वाला ऐंकर और विशेषज्ञ उनकी नज़र में बाज़ार के बड़े जानकार होते हैं, लेकिन उन्हें यह जानकर कैसा लगेगा कि जिनकी सलाह पर वे शेयर ख़रीद रहे हैं, वे दरअसल अपने शेयर को बढ़ाने की फ़िराक़ में हैं। सीएनबीसी आवाज़ जैसे मशहूर बिज़नेस चैनल का ऐंकर हेमंत घई यही करता था। शेयर बाज़ार के कारोबार पर नज़र रखने वाले सिक्योरिटीज़ ऐंड एक्सचेंज बोर्ड यानी सेबी ने उसके और उसके परिजनों के शेयर ख़रीदने बेचने पर बैन लगा दिया है। साख के बड़े संकट को देखते हुए चैनल ने भी उसे नौकरी से बरख़ास्त कर दिया है।

मामला बड़ा दिलचस्प है। ऐंकर हेमंत घई अपने और अपनी पत्नी तथा माँ के नाम से किसी कंपनी के शेयर ख़रीदता था और फिर अपने शो में उसी कंपनी के भविष्य को सुनहरा बनाकर पेश करता था। यानी लोगों को उस कंपनी के शेयर ख़रीदने की सलाह देता था। नतीजा ये होता था कई लोग उस कंपनी के शेयर ख़रीदने लगते थे। स्वाभाविक था कि कंपनी का शेयर चढ़ता था और फिर ऐंकर अपने शेयर बेचकर बढ़िया मुनाफ़ा कमा लेता था। ऐसा करते हुए उसने करीब तीन करोड़ रुपये कमा लिये।

हेमंत घई स्टॉक 2020 नाम का शो होस्ट करता था। सेबी ने जाँच में पाया कि कुछ सालों में हेमंत और उसकी पत्नी जया और माँ श्याम मोहिनी के नाम से ऐसे तमाम शेयर ख़रीदे गये जिनके बारे में अगले दिन इस शो काफी अच्छी बातें की गयीं और लोगों को ख़रीदेन के लिए प्रेरित किया गया। सेबी ने इस धोखाधड़ी से कमाई गयी 2.95 करोड़ रुपये के इस्तेमाल पर भी रोक लगा दी है।

सेबी की कार्वाई को देखते हुए सीएनबीसी पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। मुकेश अंबानी की कंपनी नेटवर्क 18 इस चैनल की प्रमोटर है। चैनल ने हेमंत घई को नौकीर से निकाल दिया है।

 


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।