पंजाब: धरनारत पेंशनधारियों को कवर कर रहे रिपोर्टर पर पुलिसिया हमला, कैमरा छीना, माइक तोड़ा


इस झड़प में रिपोर्टर अमन बराबर को हलकी फुलकी चोट आई है हालांकि उन्‍होंने पुलिस में कोई शिकायत नहीं दी है


मीडिया विजिल मीडिया विजिल
मीडिया Published On :


पंजाब में चल रहे बजट सत्र के बीच बुधवार को अपनी मांगें लेकर इकट्ठा हुए पेंशनधारकों को कवर कर रहे एक पत्रकार के साथ पुलिस ने अनावश्‍यक धक्‍कामुक्‍की की, उसका कैमरा छीन लिया और माइक को पैरों से कुचल कर तोड़ दिया।

न्‍यूज़18 के रिपोर्टर अमन बरार धरना दे रहे पेंशनधारकों को कवर कर रहे थे, तभी पुलिस अधिकारियों ने उनसे कैमरा बंद करने को कहा। उन्‍होंने बताया कि अभी लाइव चल रहा है इसलिए कैमरा बंद नहीं हो सकता लेकिन पंजाब पुलिस ने अपनी नासमझी में कैमरे को छीनने-झपटने की कोशिश की ताकि किसी तरह प्रसारण रुक जाए।

ਦਿਨਕਰ ਗੁਪਤਾ ਜੀ ਜਾਗੋ! ਨਿਊਜ਼ 18 ਦੇ ਪੱਤਰਕਾਰ ’ਤੇ ਹਮਲਾ

Posted by News18 Punjab on Wednesday, February 13, 2019

रिपोर्टर से धक्‍कामुक्‍की करने और कैमरे छीनने वाला सारा दृश्‍य जस का तस लाइव चला गया और चैनल ने अपने बुलेटिन में इसे पहली हेडलाइन की जगह दी, जिसके चलते मामला चर्चा में आ गया।

इस झड़प में रिपोर्टर अमन बरार को हलकी फुलकी चोट आई है हालांकि उन्‍होंने पुलिस में कोई शिकायत नहीं दी है। अमन ने मीडियाविजिल से बातचीत में बताया कि वे चुपचाप  टिकटैक कर रहे थे, कि पुलिस ने अनावश्‍यक उनके काम अड़ंगा डालने की कोशिश की।

अमन ने बताया कि मुख्‍यमंत्री के मीडिया सलाहकार ने इस घटना का संज्ञान लिया है। चैनल खुद आधिकारिक रूप से इस मामले को देख रहा है और आज शायद पुलिस ज्‍यादती की फुटेज लेकर राज्‍य के डीजीपी से मिलने जाए।

गौरतलब है कि पंजाब के पेंशनधारी वरिष्‍ठ नागरिक लंबे समय से अपना डीए जारी करने की मांग कर रहे हैं। सरकार का कहना है कि उसके पास पैसे नहीं हैं। इसी मांग को लेकर पेंशनधारी कल धरने पर बैठे थे।


मीडिया विजिल जनता के दम पर चलने वाली वेबसाइट है। आज़ाद पत्रकारिता दमदार हो सके, इसलिए दिल खोलकर मदद कीजिए। अपनी पसंद की राशि पर क्लिक करके मीडिया विजिल ट्रस्ट के अकाउंट में सीधे आर्थिक मदद भेजें।

Related



मीडिया विजिल से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।